खेती-किसानीबिजनेस

pineapple की खेती : किसान भाई करे इस फल की खेती होगी नोटों की बारिश देखे पुरी जानकारी

pineapple की खेती : किसान भाई करे इस फल की खेती होगी नोटों की बारिश देखे पुरी जानकारी

 

pineapple की खेती : किसान भाई करे इस फल की खेती होगी नोटों की बारिश देखे पुरी जानकारी प्रयागराज के सारंगपुर में स्थित साढ़े तीन एकड़ खेत में अपना फॉर्म हाउस बनाने वाले किसान सीएल गौतम बताते हैं कि उन्होंने अवर अभियंता पद से सेवानिवृत्त होने के बाद अपना पूरा ध्यान प्रगतिशील खेती पर लगाया. वह मिश्रित खेती कर रहे हैं. जैसे कि पाइनएप्पल और ड्रैगन फ्रूट की खेती एक साथ करते हैं. ड्रैगन फ्रूट के बाद जो हिस्सा बचता है, उसमें पाइनएप्पल की फसल लगा देते हैं. इससे उन्हें दोहरा लाभ होता है. किसान अपनी आय बढ़ा सकते हैं. फलों की खेती से न्यूनतम निवेश पर अधिकतम लाभ प्राप्त किया जा सकता है. इसी प्रयास के तहत प्रयागराज के किसान पाइनएप्पल की खेती करके लगभग एक साल में चार लाख रुपए तक की बचत कर लेते हैं.




Oppo A3 Pro 5G बढ़िया बैटरी और स्मार्टी फीचर्स के साथ मार्केट मे मचायेगा बावल

pineapple की खेती : किसान भाई करे इस फल की खेती होगी नोटों की बारिश देखे पुरी जानकारी

पाइनएप्पल  फसल की क्या है खास बात

सीएल गौतम बताते हैं कि वैसे तो पाइनएप्पल की खेती बड़े स्तर पर पश्चिम बंगाल, असम में होती है, क्योंकि वहां की जलवायु और उत्तर प्रदेश की जलवायु में काफी अंतर देखने को मिलता है, लेकिन यहां भी थोड़ी सी मेहनत करके हम पाइनएप्पल के बेहतरीन फलों का उत्पादन कर सकते हैं, जिसकी वर्षभर बाजार में मांग रहती है. इसमें सिंचाई से लेकर पत्ते तक का ध्यान देना होता है. इस फसल में ज्यादा पानी की आवश्यकता नहीं होती, इसलिए कम मेहनत और कम लागत में किसान अधिकतम लाभ पा सकते हैं. इस समय पाइनएप्पल के पौधे में फूल लग रहे हैं, जो जून या जुलाई तक फल में बदल जाएंगे. फिर उनको बाजार में बेच दिया जाएगा

अब आप भी लगाए सोलर पंप और उठाये 60% सब्सिडी का लाभ जल्द करें आवेदन

पाइनएप्पल की खेती के बारे मे

 पाइनएप्पल का रखरखाव बेहद आसान होता है. इसके साथ ही मौसम को लेकर भी ज्यादा ध्यान रखने की जरूरत नहीं पड़ती. कई राज्यों में किसान पूरे 12 महीने इसकी खेती करते हैं. इसके पौधों को अन्य पौधों के मुकाबले सिंचाई की कम जरूरत पड़ती है. इसकी बुवाई से लेकर फल पकने तक करीब 18 से 20 महीने लग जाते हैं. फल पकने पर उसका रंग लाल-पीला होना शुरू हो जाता है. जिसके बाद इसकी तुड़ाई का काम शुरू होता है. पाइनएप्पल को गर्म मौसम का फल माना जाता है, हालांकि इसकी खेती सालभर की जा सकती है.

MOTO लेकर आया अपना न्यू स्मार्टफोन,Snapdragon 695 के साथ 5000 mAh के झक्कास बैटरी,के साथ कीमत

pineapple की खेती : किसान भाई करे इस फल की खेती होगी नोटों की बारिश देखे पुरी जानकारी

 इसकी डिमांड के बारे मे

पाइनएप्पल के फल की डिमांड देशभर में रहती है. इसके एक फल की कीमत इसकी गुणवत्ता पर निर्भर करती है. आमतौर पर एक फल की कीमत ₹50 तक होती है. बात इसके बाजार की की जाए, तो स्थानीय बाजार प्रयागराज के अलावा लखनऊ और मध्य प्रदेश, दिल्ली तक पाइनएप्पल भेजा जाता

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button