खेती-किसानी

Soybean Top Variety 2024: कम समय में पकने वाली सोयाबीन की ये 4 किस्में किसानों को नहीं छोड़ेगी लखपति बनाने की कोई भी कसर, जाने कमाई का छप्परफाड़ तरीका

Soybean Top Variety 2024: कम समय में पकने वाली सोयाबीन की ये 4 किस्में किसानों को नहीं छोड़ेगी लखपति बनाने की कोई भी कसर, जाने कमाई का छप्परफाड़ तरीका।  हमारे कई किसान भाई रबी मौसम में लहसुन की फसल, आलू की फसल और प्याज की फसल लगते है। इन किसान के लिए है बड़ी खबर की सोयाबीन की यह उन्नत किस्में कम समय में किसान को अधिक उत्पादन देगी और किसान को अच्छी कमाई भी होगी।



सोयाबीन की खेती से किसान को अधिक उत्पादन प्राप्त करना है ऑटो पहले उन्नत किस्म के बीज की खरीदी करनी होगी और इन के बीज को सही समय पर खेत में लगा के इन सोयाबीन की फसल की देखभाल भी अच्छे से करनी होगी तब जाकर सोयाबीन की खेती से किसान को अधिक उत्पादन प्राप्त होता है और अच्छी कमाई होती है।

Also read this:-Rojgaar Sangam Bhatta Yojana 2024 के तहत बेरोजगार युवाओ की लग गयी लौटरी, अब इन युवाओ को केंद्र सरकार देगी हर महीने 1500 रुपए, जाने डिटेल्स

सोयाबीन की उन्नत किस्म के बीज की बुवाई 15 जून से कई किसान शुरू कर देते है। और कम समय में अच्छे से पक के तैयार हो जाए ऐसी सोयाबीन की उन्नत किस्म लगा के अधिक उत्पादन प्राप्त करते है। जब रबी सीजन की शुरुआत होती है तब लहसुन, आलू, प्याज इस प्रकार की खेती करते है और इन से भी अच्छा उत्पादन प्राप्त कर के अपनी कमाई में बढ़ोतरी करते है।

कम समय में पकने वाली Soybean Top Variety 2024

सोयाबीन की उन्नत किस्म हमारे देश के कृषि वैज्ञानिकों ने मिट्टी और जलवायु के हिसाब से कई सारी विकसित की है। और यह सब सोयाबीन की उन्नत किस्म अलग अलग विस्तार में सब से अच्छी पैदावार देती है। कम समय में पकने वाली सोयाबीन वैरायटी है और इन की खासियत क्या है इन की खेती एक हैक्टर जमीन में की है तो कितना उत्पादन प्राप्त होता है .

Soybean Top Variety 2024: कम समय में पकने वाली सोयाबीन की ये 4 किस्में किसानों को नहीं छोड़ेगी लखपति बनाने की कोई भी कसर, जाने कमाई का छप्परफाड़ तरीका

सोयाबीन यह उन्नत किस्म किसान को कम समय में अधिक उत्पादन देने वाली है। जीन का नाम है Js 9560 सोयाबीन किस्म, NRC150 सोयाबीन किस्म, ब्लैक बोल्ड सोयाबीन किस्म  इन तीनो सोयाबीन की किस्म के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे।

Soybean Top Variety 2024: JS 9560 सोयाबीन किस्म 

सोयाबीन की यह उन्नत किस्म कुछ साल से किसान के बिच अधिक लोकप्रिय हो गई है। सोयाबीन की यह उन्नत किस्म के बीज की बुवाई मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र दोनों राज्य के अधिक विस्तार में इन की खेती की जाती है। सोयाबीन की यह जेएस 9560 किस्म के बीज की बुवाई का सही समय जून महीना के अंतिम सप्ताह से जुलाई महीने के प्रथम सप्ताह तक अच्छा माना जाता है। और एक एकड़ जमीन में आप 40 से लेकर 45 किलोग्राम तक की करें।

Soybean Top Variety 2024: JS 9560 सोयाबीन किस्म की खासियत

किसान ने सोयाबीन की यह जेएस 9560 किस्म के बीज की बुवाई एक हैक्टर जमीन में की है तो 26 से 29 क्विंटल तक का उत्पादन प्राप्त होता है। इन के पौधे पर बैंगनी रंग के फूल खिलते है और इन के दाने कठोर और पीले रंग का होता है। और बीज मुख्य खेत में बुवाई के बाद 80 से लेकर 90 दिन में अच्छे से पाक के कटाई के लिए तैयार हो जाती है। इन की खासियत यह है की कम बारिश वाले विस्तार में भी अधिक उत्पादन देती है। इन की खेती अधिकतम हमारे देश के मध्य विस्तार में होती है।

Soybean Top Variety 2024: NRC 150 सोयाबीन किस्म 

सोयाबीन की यह उन्नत किस्म हमारे देश के मध्य प्रदेश में इंदौर के सोयाबीन अनुसंधान केंद्र ने तैयार कर के विकसित की है। और हमारे कृषि वैज्ञानिकों का कहना है की सोयाबीन की यह उन्नत किस्म की खेती मध्य प्रदेश, गुजरात, राजस्थान, महाराष्ट्र, उतर प्रदेश आदि राज्य में इन के बीज की बुवाई कर शकते है। और यह भी कहा है की सोयाबीन की यह किस्म के बीज बुवाई के बाद 85 से 90 दिन में अच्छे से पक के कटाई के लिए तैयार हो जाती है और एक हेक्टर जमीन में सोयाबीन की यह किस्म के बीज की बुवाई किसान ने की है तो 36 से लेकर 38 क्विंटल तक का उत्पादन प्राप्त होता है।

Soybean Top Variety 2024: NRC 150 सोयाबीन किस्म की खासियत

सोयाबीन की यह किस्म गंध के लिए जिम्मेदार लाइपोक्सीजिनेज-2 एंजाइम से मुक्त है। इन के अलावा इस किस्म की फसल में बहुत कम रोग लगते है इस में रोग प्रतिरोधक शक्ति भी अधिक है। इन की खास विशेषता यह है की इस से बनाने वाले सोया दूध, सोया टोफू, सोया पनीर, सोया तेल आदि में सोयाबीन की गंध नहीं आती है। और इन के दाने में प्रोटीन की मात्रा भी अधिक होती है।

Soybean Top Variety 2024: Black Bold Soybean Variety

सोयाबीन की यह उन्नत किस्म हमारे देश के मध्य विस्तार के लिए अनुरूप है। सोयाबीन की यह उन्नत किस्म के बीज की बुवाई किसान 15 जून से 30 जून तक कर शकता है। और एक एकड़ जमीन में इस के बीज की बुवाई करनी है तो 45 किलोग्राम तक के बीज की जरूरत होगी। इन के पौधे की उचाई अधिक होती है और फलियों में दाने भूरे रंग के होते है।

Soybean Top Variety 2024: ब्लैक बोल्ड सोयाबीन किस्म की खासियत

सोयाबीन की यह उन्नत किस्म की खास विशेषता यह है की इस में जड़ सड़न (जड़ गड गलन) और सफ़ेद फंफूदी आदि रोगो के सामने सहनशील है। इन के बीज मुख्य खेत में बुवाई के बाद 80 से 90 दिन में अच्छे से पक के कटाई के लिए तैयार हो जाते है। और इन की बुवाई आप ने एक हैक्टर जमीन में की है तो 25 से लेकर 29 क्विंटल तक का उत्पादन प्राप्त होता है। इन के दाने में भी प्रोटीन की मात्रा अधिक पाए जाती है।किसान यह सोयाबीन की उन्नत किस्म की बुवाई सही समय पर कर के अधिक उत्पादन प्राप्त कर के रबी मौसम में दूसरी फसल की बुवाई कर के अच्छी कमाई कर शकते है।

Also read this:-चार्मिंग लुक से Apache के छक्के छुड़ाने आ गई मार्केट में माइलेज की रानी Bajaj Pulsar New Edition बाइक, ABS फीचर्स के साथ क़ीमत होगी इतनी ?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button