AAj Tak Ki khabarChhattisgarhCrimeKorbaSECL NEWS

एसईसीएल कुसमुंडा पानी फिल्टर प्लांट से लाखों का केबल पार, कॉलोनियों पानी सप्लाई ढप्प

Pawanएसईसीएल कुसमुंडा पानी फिल्टर प्लांट से लाखों का केबल पार, कॉलोनियों पानी सप्लाई हुई ढप्प… देखें वीडियो….

कोरबा – जिले के कुसमुंडा क्षेत्र अंतर्गत विकास नगर पानी फिल्टर पानी प्लांट में बीते शनिवार की देर रात चोरों ने धावा बोल दिया,लगभग ३ लाख रूपये के केबल काट कर ले गए। मिली जानकारी के अनुसार कॉलोनियों में पानी सप्लाई हेतु विकास नगर में जलोपचार संयत्र स्थापित किया गया है, जहां नदी के पानी को फिल्टर कर कुसमुंडा क्षेत्र की कॉलोनियों में साफ पानी की सप्लाई की जाती हैं,इस व्यवस्था में दर्जनों विशाल मोटर व हजारों मीटर केबल की आवश्यकता पड़ती है जो बिजली के मैडम से इस कार्य को अंजाम देते हैं। मोटर और केबल में तांबे के वायर लगे होते हैं जिन पर चोरों की नजर होती है,बीते शनिवार की देर रात चोरों ने एक बार फिर प्लांट में धावा बोला और इन्ही मोटर से जुड़े केबल को काट कर ले गए,प्लांट में कर्मचारी तैनात थे, हूटर बजने पर उन्होंने अपने ऊपर विभागीय कर्मचारियों को सूचना दी,आनन फानन में एक कर्मचारी प्लांट तक पंहुचा तब तक चोर लगभग ६० मीटर केबल काट कर भाग गए। सुबह एसईसीएल के अधिकारी मौके पर पंहुचे और फिर से पानी सप्लाई हेतु नए केबल कनेक्शन कर पानी सप्लाई शुरू करने की कवायद में जुड़ गए। प्रबंधन ने कुसमुंडा पुलिस को घटना की सूचना दी है। क्षेत्र के पार्षद अमरजीत सिंह भी कॉलोनियों में पानी सप्लाई बंद होने पर प्लांट पहुंचे और एसईसीएल के अधिकारी कर्मचारियों के साथ जल्द से जल्द पानी सप्लाई शुरू करने सहयोग करते दिखे। उन्होंने पानी प्लांट में केबल चोरी को दुखद बताया,उनका कहना था कि पानी दैनिक दिनचर्या का अहम हिस्सा है, कुछ देर ही गर्मी के मौसम में पानी नहीं मिलने बड़ी परेशानी हो जाती है,चोरी की वजह से सुबह से पानी सप्लाई बंद है,ऐसे में पीने अथवा नहाने के लिए पानी नहीं होना भी दुखद है। चोरी रोकने उन्होंने भी पुलिस से बात कर है संभव मदद की बात कही। आपको बता दें पानी प्लांट में यह चोरी की पहली वारदात नही हैं इससे पूर्व में चोरों द्वारा इस प्लांट में इस तरह की चोरियां की गई है,पकड़ में नहीं आने की वजह से उनके हौसले बुलंद हैं। एसईसीएल प्रबंधन द्वारा इन चोरियों को रोकने के लिए सीसीटीवी कैमरे  के साथ ही साथ प्लांट के चारों ओर ऊंची ऊंची दीवार बनाई गई हैं, उनमें फेंसिंग की भी व्यवस्था की गई है बावजूद इसके चोर शातिर तरीके से प्लांट में घुस आते हैं और बहुत ही कुशल तरीके से विद्युत प्रवाहित केबलों को काटते हैं और ले जाते हैं। कुछ वर्षों में चोरियां हो रही हैं एसईसीएल प्रबंधन को चाहिए की वे यहां त्रिपुरा स्टेट रायफल की तैनाती करनी चाहिए जिससे चोरी को रोका जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button