बिजनेससरकारी योजना

पुंगनूर गाय की नस्ल देती है हर महीने के झोले भर-भर के पैसे, रहेगी 25 साल से भी ज्यादा वर्षो तक जिंदा जाने सम्पूर्ण जानकारी 

पुंगनूर गाय की नस्ल देती है हर महीने के झोले भर-भर के पैसे एक दिन में देगी इतने लीटर दूध, रहेगी 25 साल से भी ज्यादा वर्षो तक जिंदा जाने जानकारी। आज से कुछ दिनों पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बंगले पर एक गाय देखी गई। जिनको प्रधानमंत्री चारा खिला रहे हैं, जिसमे गाय खड़ी है और प्रधानमंत्री बैठे हैं हुए उसको चारा खिला रहे है। यहाँ पर गाय पास में खड़ी है फिर भी उनके घुटने से भी ऊपर नहीं है। पुंगनूर गाय जो है उसका कद डेढ़ से दो फीट है। ऐसे में अगर आप भी इस क्यूट सा गाय को रखना चाहते हैं, तो हम आपको इसके बारे मे बताने वाले है।



सरकार ने एक मिशन लॉन्च किया है कि इन पुंगनूर गायों को पूरे विश्व में विख्यात किया जा सके। उसके लिए ₹690000000 दिए ताकि आईवीएफ सेंटर बनाया जा सके और इनकी जनसंख्या बढ़ाएं जाएं। जब इस पुंगनूर गायों की जमीन पर जनसंख्या बढ़ी और लोगों के महत्व के बारे में पता चला तो बड़ी-बड़ी जो सेलिब्रिटी ने इस गाय को अपने घर पर रखना शुरू किया। जो एक लोग कुत्ते को रख सकते हैं, वह इस गाय को भी बड़े आराम से रख सकते हैं।

पुंगनूर गाय इतिहास

पुंगनूर गाय भारत की एक दुर्लभ और प्राचीन गाय की नस्ल है, जिसका इतिहास 2000 साल से भी पुराना माना जाता है। इस गाय का नाम आंध्र प्रदेश राज्य के चित्तूर जिले के पुंगनूर शहर के नाम पर रखी गई है। पुंगनूर गाय का उल्लेख ऋग्वेद में मिलता है, जो इसे भारत की सबसे पुरानी गाय नस्लों में से एक बनाता है।

पुंगनूर गाय की नस्ल देती है महीने के झोले भर-भर के पैसे, रहेगी 25 साल से भी ज्यादा वर्षो तक जिंदा जाने सम्पूर्ण जानकारी 

ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी ने पुंगनूर गाय को अपनी सेना के लिए दूध और घी का उत्पादन करने के लिए इस्तेमाल किया। पुंगनूर गाय की लोकप्रियता 19वीं शताब्दी में कम होने लगी क्योंकि विदेशी गाय नस्लों को भारत में लाया गया। उसके बाद 20वीं शताब्दी में पुंगनूर गाय को विलुप्त होने का खतरा पैदा हो गया। 21वीं शताब्दी में पुंगनूर गाय को संरक्षित करने और उसकी संख्या बढ़ाने के प्रयास किए जाने लगे।

यह भी पढ़े :-Bijali Vibhag Bharti 2024: 10th,12th पास वालो के लिए 13000 क्लर्क, चपरासी, टेक्नीशियन पदों पर बिजली विभाग में निकली भर्ती जाने आवेदन की जानकारी

इसके बाद भारत सरकार ने पुंगनूर गाय को संरक्षित करने के लिए कई योजनाएं शुरू की हैं। गैर-सरकारी संगठनों (NGOs) भी पुंगनूर गाय को संरक्षित करने और उसकी संख्या बढ़ाने के लिए काम कर रहे हैं। इसके अलावा कई लोग भी Punganur Cow पालकर इसे संरक्षित करने में योगदान दे रहे हैं।

विशेषताएं

  • यह गाय दुनिया की सबसे छोटी गाय नस्लों में से एक है, जिसकी ऊंचाई 3 से 5 फीट होती है।
  • यह गाय कम चारा खाती है और कम जगह में रह सकती है।
  • पुंगनूर गाय का दूध उच्च गुणवत्ता वाला होता है, जिसमें 8% वसा और 4.5% प्रोटीन होता है।
  • पुंगनूर गाय के दूध में औषधीय गुण भी होते हैं, जो इसे कई स्वास्थ्य लाभ प्रदान करते हैं।

Punganur Cow: कितना दूध देती है?

पुंगनूर गाय प्रतिदिन 1 से 3 लीटर दूध देती है। यह गाय साल में 260 दिन तक दूध दे सकती है। Punganur Cow का दूध उच्च गुणवत्ता वाला होता है, जिसमें 8% वसा और 4.5% प्रोटीन होता है। यह दूध औषधीय गुणों से भी भरपूर होता है, जो इसे कई स्वास्थ्य लाभ प्रदान करते हैं।

  1. गाय की उम्र: पुंगनूर नस्ल की युवा गायें कम दूध देती हैं। और परिपक्व गायें अधिक दूध देती हैं।
  2. गाय का स्वास्थ्य: पुंगनूर नस्ल की स्वस्थ गायें अधिक दूध देती हैं। और गायें अगर बीमार है तो कम दूध देती हैं।
  3. गाय का आहार: पौष्टिक भोजन खाने वाली पुंगनूर नस्ल की गायें अधिक दूध उत्पादन को बढ़ावा देता है। जबकि अल्पपोषक भोजन कम दूध उत्पादन को जन्म देता है।
  4. गाय का प्रबंधन: अच्छा प्रबंधन मिलने वाले गायें अधिक दूध उत्पादन को बढ़ावा देता है। वहीं खराब प्रबंधन मिलने से कम दूध उत्पादन को जन्म देता है।

Punganur Cow : उम्र 

पुंगनूर गाय की औसत उम्र 15 से 20 साल होती है। कुछ गायें 25 साल तक भी जीवित रह सकती हैं। उचित देखभाल और प्रबंधन से, पुंगनूर गाय की उम्र बढ़ाई जा सकती है।

Punganur Cow: कीमत

पुंगनूर गाय की अनुमानित कीमत ₹1 लाख से ₹25 लाख तक हो सकती है। आपको बता दे की पुंगनूर गाय की वास्तविक कीमत उपरोक्त कारकों के आधार पर भिन्न हो सकती है। पुंगनूर गाय की कीमत कई कारकों पर निर्भर करती है, जैसे कि:

  • गाय की उम्र
  • गाय का स्वास्थ्य
  • गाय का दूध देने की क्षमता
  • गाय का वंशावली
  • गाय का रंग

Punganur Cow: कैसे से खरीदें ?

यदि आप पुंगनूर गाय खरीदना चाहते है तो इसके लिए आप निम्नलिखित स्थानों पर जा सकते हैं:

  1. आंध्र प्रदेश, भारत: पुंगनूर गाय का मूल स्थान भारत के आंध्र प्रदेश राज्य का चित्तूर जिला है। आप यहां कई किसानों और पशुपालकों को पुंगनूर गाय बेचते हुए पा सकते हैं।
  2. ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म: कई Online Platform हैं जहाँ आप पुंगनूर गाय खरीद सकते हैं। कुछ लोकप्रिय प्लेटफ़ॉर्म में OLX, Quikr और Sulekha शामिल हैं।
  3. पशु मेले: भारत में कई पशु मेले आयोजित किए जाते हैं जहाँ आप पुंगनूर गाय खरीद सकते हैं। कुछ लोकप्रिय पशु मेले में हरिद्वार का कुंभ मेला, सोनीपत का हरियाणा पशु मेला और राजस्थान का पुष्कर मेला शामिल हैं।

पुंगनूर गाय खरीदने के लिए कुछ सुझाव:

पुंगनूर गाय एक महंगी गाय नस्ल है, लेकिन यह कई लाभ भी प्रदान करती है। गाय खरीदने से पहले, निम्न कारकों पर विचार करना महत्वपूर्ण है।

  1. विश्वसनीय विक्रेता से गाय खरीदें।
  2. गाय की उम्र, स्वास्थ्य, दूध देने की क्षमता, वंशावली और रंग की जांच करें।
  3. गाय की कीमत के बारे में बातचीत करें।
  4. गाय के लिए उचित परिवहन व्यवस्था करें।

यह भी पढ़े :-Tecno कंपनी ने लांच किया 2x पोट्रेट कैमरा और 9000+ का चिपसेट प्रोसेसर के साथ फोल्डेबल Phone 10,000 रुपए डिस्काउंट में Samsung की बुझाई बत्ती

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button