AAj Tak Ki khabarChhattisgarh

कृषक उन्नति योजना: मुख्यमंत्री श्री विष्णुदेव साय ने सक्ती जिले के 88 हजार से अधिक किसानों के खाते में अंतरित किए 4 अरब 74 करोड़ से अधिक की राशि

सक्ती : महतारी वंदन योजना के बाद छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा आज 12 मार्च को कृषक उन्नति योजना कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कृषक उन्नति योजना के तहत मुख्यमंत्री श्री विष्णुदेव साय ने आज प्रदेश के 24 लाख 72 हजार से अधिक किसानो के खाते में 13 हजार 320 करोड़ रूपए की आदान सहायत राशि अंतरित किए। जिसके अन्तर्गत राज्य के किसानों को समर्थन मूल्य पर खरीदी गई धान में प्रति क्विंटल के मान से अंतर की राशि उनके खाते में अंतरित की गई। इस योजना के तहत जिले के 88 हजार 906 किसानो के खाते में 4 अरब 74 करोड़ से अधिक की राशि अंतरित हुई ।

मुख्यमंत्री श्री विष्णुदेव साय ने प्रदेश के किसानों से 3100 रूपए प्रति क्विंटल की दर से धान खरीदी करने का निर्णय लिया था और अंतर राशि करीब 917 रूपए प्रति क्विंटल की दर से अंतरित की गई। इसी के तहत् सक्ती जिले में जिला स्तरीय एवं विकासखण्ड स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर किसानो को नगद राशि का डेमो चेक भी प्रदान किया गया l

जिला स्तरीय सह विकासखंड स्तरीय कार्यक्रम कलेक्ट्रेड ग्राउंड जेठा, सक्ती में आयोजित किया गया। इसी प्रकार विकासखण्ड स्तर अंतर्गत विकासखण्ड डभरा के दशहरा मैदान डभरा में, विकासखण्ड जैजैपुर के दशहरा मैदान जैजैपुर में और विकासखण्ड मालखरौदा के दशहरा मैदान मालखरौदा में विकासखण्ड स्तरीय कार्यक्रम आयोजित किये गये। कलेक्ट्रेट परिसर में आयोजित जिला स्तरीय कार्यक्रम में पूर्व विधायक डॉ. खिलावन साहू, जिला पंचायत सदस्य श्रीमती विद्या सिदार, जिला पंचायत सदस्य श्री टिकेश्वर गबेल, जनपद पंचायत अध्यक्ष श्री राजेश राठौर, कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी श्रीमती नूपुर राशि पन्ना, अपर कलेक्टर श्री बीरेंद्र कुमार लकड़ा, उप संचालक कृषि श्री शशांक शिंदे, सहायक पंजीयक सहकारी संस्थाएं सुश्री माहेश्वरी तिवारी, वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी श्री जीतेन्द्र कुमार साहू, अधिवक्ता श्री चितरंजन पटेल, श्री रामनरेश यादव सहित विभिन्न जनप्रतिनिधि, अधिकारी कर्मचारी और बड़ी संख्या में किसान उपस्थित थेl
मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय ने अपने सम्बोधन में कहा कि आज वह शुभ दिन है, जब प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की गारंटी को पूरा करते हुए कृषक उन्नति योजना के अंतर्गत किसान भाइयों के बैंक खातों में 13 हजार 320 करोड़ रुपए की आदान सहायता राशि का अंतरण किया जा रहा है।

आज के कार्यक्रम में 24 लाख 75 हजार से अधिक किसानों के खातों में राशि भेजी जा रही है। इनमें से 24 लाख 72 हजार वे किसान हैं, जिन्होंने इस साल धान बेचा था। उन्हें 13 हजार 289 करोड़ रुपए के अंतर की राशि का भुगतान किया गया है। इसी तरह 02 हजार 829 धान बीज उत्पादक किसानों को भी बीज निगम के माध्यम से अंतर राशि, 31 करोड़ रुपए से अधिक का भुगतान किया जा रहा है। राज्य स्तरीय समारोह में वर्चुअली जुड़ने पर मुख्यमंत्री श्री साय ने मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री मोहन यादव एवं छत्तीसगढ़ विधानसभा के अध्यक्ष डॉ रमन सिंह को धन्यवाद दिया।

श्री साय ने कहा कि हमारी सरकार ने किसान भाइयों से किए गए वादे के अनुरूप अटल जी के जन्मदिन, सुशासन दिवस के अवसर पर 2 साल के बकाया धान बोनस 3716 करोड़ रुपए का अंतरण भी किसान भाइयों के खातों में कर दिया है। 13 लाख से ज्यादा किसानों को बोनस का लाभ मिला है। मोदी जी ने गारंटी दी थी कि छत्तीसगढ़ में सरकार बनने पर गरीबों के लिए 18 लाख आवासों का निर्माण किया जाएगा। सरकार बनने के दूसरे ही दिन हमने कैबिनेट की बैठक में इस बारे में निर्णय ले लिया है, अप्रैल माह से तीव्र गति से मकान बनने शुरू होंगे। मोदी जी ने महिलाओं को महतारी वंदन योजना शुरू करने की गारंटी दी थी। यह योजना भी शुरू हो चुकी है।

विगत 10 मार्च को माननीय प्रधानमंत्री जी के करकमलों से राज्य की 70 लाख से अधिक माताओं और बहनों के बैंक खातों में 655 करोड़ रुपए की राशि अंतरित कर दी गई है। श्री साय ने कहा की मोदी जी ने वनवासी भाइयों से वादा किया था कि तेन्दूपत्ता संग्रहण पारिश्रमिक दर 4000 रुपए मानक बोरा से बढ़ाकर 5500 रुपए कर देंगे। आज से ही इस योजना की भी शुरूआत हो जाएगी। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री के रूप में मोदी जी ने जो दायित्व सौंपे हैं। उन्हें हम हर हाल में पूरा करेंगे।

PRITI SINGH

Editor and Author with 5 Years Experience in INN24 News.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button