देश

फिर लोट आया कोरोना देशभर में 24 घंटे में 680 नए केस आये समाने जिसमे 14 की मौत जाने पूरी खबर

आप की जानकरी के लिए बता दे की अब फिर कोरोना का JN.1 वैरिएंट हमारे भारत देश में तेजी से फैल रहा है। पिछले 24 घंटे में देशभर में कोरोना के 640 मामले दर्ज किए गए हैं। एक शख्स की मौत हुई है। हेल्थ मिनिस्ट्री के मुताबिक अब हमारे भारत देश में एक्टिव मामलों की संख्या 2 हजार 997 हो गई है। एक दिन पहले यह आंकड़ा 2 हजार 669 था।स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, अकेले केरल में 2 हजार 606 एक्टिव मामले हैं। अब हमारे भारत देश में सबसे अधिक फेल चूका है। यहां 21 दिसंबर को कोरोना के 265 नए मामले सामने आए हैं। एक मरीज की मौत भी हुई है। राजस्थान के जयपुर में एक महीने का बच्चा कोरोना पॉजिटिव मिला है। जिसका इलाज चल रहा है।कर्नाटक में कोविड के 105 और महाराष्ट्र में 53 मामले हैं। यूपी के नोएडा में कई महीनों के बाद एक पॉजिटिव मरीज मिला है। डॉक्टर ने बताया कि 54 साल का मरीज हाल ही में नेपाल गया था। वह हरियाणा के गुरुग्राम में काम करता है।फिर लोट आया कोरोना देशभर में 24 घंटे में 680 नए केस आये समाने जिसमे 14 की मौत जाने पूरी खबर।






41 देशों में फैला JN.1 वैरिएंट

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के मुताबित अब ये कोरोना का नया JN.1 वैरिएंट अब तक 41 देशों में फैल चुका है। फ्रांस, अमेरिका, ब्रिटेन, सिंगापुर, कनाडा और स्वीडन में JN.1 के मामले सबसे अधिक भी बताया जा रहा है। अब हमारे भारत देश में नए वैरिएंट के 21 मामले हैं।WHO ने JN.1 को ‘वैरिएंट ऑफ इंटरेस्ट’ में शामिल किया है। WHO ने बताया कि अभी तक का विश्लेषण कहता है कि मौजूदा वैक्सीन JN.1 वैरिएंट पर पूरी तरह से कारगर है। जिसे लोगों को अधिक खतरा नहीं है।फिर लोट आया कोरोना देशभर में 24 घंटे में 680 नए केस आये समाने जिसमे 14 की मौत जाने पूरी खबर।

मध्य प्रदेश के नये मुख्यमंत्री मोहन यादव का बड़ा ऐलान अब नहीं होगीं कोई भी योजना बंद जाने पूरी खबर

अब ये WHO ने सावधानी के तौर पर एडवाइजरी जारी की है। जिसमे लोगों को भीड़ वाले, बंद या दूषित हवा वाले इलाकों में मास्क पहनने की सलाह दी गई है। उसके साथ ही आवश्यक दूरी बनाने को भी कहा गया है।

केंद्र का निर्देश- सभी जिले टेस्ट करें

आप को बता दे की अब केंद्र सरकार ने नए वैरिएंट को लेकर सभी राज्यों के लिए एडवाइजरी जारी की है। जिसमे सभी राज्यों को अधिक से अधिक कोविड टेस्ट करने को कहा गया है। केंद्र ने पॉजिटिव सैंपल जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए लैब भेजने का निर्देश दिया है।

खाली हाथ जाओ और Nissan Magnite SUV की चमचमाती कार लेकर आजाओ,ब्रांडेड फीचर्स और दमदार इंजन भी है मौजूद

केरल में कोविड-19 का मामला बढ़ने के कारण वहां भी एडवाइजरी जारी की गई है। यहां 60 वर्ष और उससे अधिक उम्र के सभी बुजुर्गों, किडनी, हृदय, लिवर जैसी बीमारियों से पीड़ित लोगों, गर्भवती महिलाओं, स्तनपान कराने वाली मांओं को बाहर जाने पर अनिवार्य रूप से मास्क पहनने की सलाह दी गई है।

केंद्र के निर्देशों के मुताबित अभी अधिक घबराने या तुरंत प्रतिबंध लगाकर सीमा पर (केरल, तमिलनाडु राज्यों) निगरानी बढ़ाने की जरूरत नहीं है। केरल और तमिलनाडु से लगे सभी सीमावर्ती जिलों को सतर्कता बरतनी चाहिए। क्रिसमस और नए वर्ष के जश्न के दौरान लोगों को खास तौर पर सावधानी बरतने के निर्देश दिए गए हैं।

Bollywood News शादी से पहले प्रेग्नेंट हो चुकी थीं बॉलीवुड की ये हसीनाएं एक्टर्स नाम सुनकर आप भी हो जावोगें हैरान

भारत में कहां से आया JN.1 वैरिएंट 

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) के महानिदेशक डॉ. राजीव बहल के मुताबिक 8 दिसंबर को केरल के तिरुवनंतपुरम में सबसे पहला JN.1 वैरिएंट सामने आया था। 79 वर्ष की एक महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। महिला में इन्फ्लुएंजा जैसी बीमारी के हल्के लक्षण थे। उसके बाद में वह ठीक हो गई।

कोविड के सब-वैरिएंट JN.1 की पहचान पहली बार यूरोपीय देश लक्जमबर्ग में हुई। यहां से यह तमाम हमारे भारत देशों में फैलना चालू कर दिया है।यह सब-वैरिएंट पिरोलो वैरिएंट (बीए.2.86) से जुड़ा हुआ है। इसे इंसानी शरीर की इम्यूनिटी के खिलाफ खतरनाक बताया जा रहा है। यही वजह है कि नए सब-वैरिएंट को लेकर अलर्ट जारी किया गया है।

अमेरिका में 8 दिसंबर को मिला था पहला JN.1 का मरीज

यूएस सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (CDC) ने कहा था कि 8 दिसंबर तक अमेरिका में सब वैरिएंट JN.1 अनुमानित 15% से 29% कोविड केस के लिए जिम्मेदार है। सितंबर में पहली बार JN.1 का मरीज सामने आया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button