Chhattisgarh

भाई के सपने को पूरा करने के लिए बहन ने उठाया बड़ा कदम,भाई के IIM के पढ़ाई के लिए सीएम भूपेश बघेल के पास पहुंची बहन,मिली बड़ी मदद

भाई-बहन का रिश्ता बेहद खास होता है। इस रिश्ते में प्यार,दोस्ती, केयरिंग सब कुछ शामिल है। रायपुर के श्रीनगर में रहने वाले मोहित और मुस्कान पटवारी ऐसे ही भाई-बहन हैं, जो हमेशा एक दूसरे के सपोर्ट में खड़े रहते हैं लेकिन दोनों ही आंखों की जेनेटिक बीमारी से भी जूझ रहे हैं। इस साल मोहित का इस साल IIM अहमदाबाद के लिए हुआ है, लेकिन पैसों की कमी मोहित की पढ़ाई में सबसे बड़ी समस्या बन रही थी।

भाई के सपने को पूरा करने के लिए बहन ने उठाया बड़ा कदम,भाई के IIM के पढ़ाई के लिए सीएम भूपेश बघेल के पास पहुंची बहन,मिली बड़ी मदद

पूरा परिवार इसी चिंता में था की सलेक्शन के बावजूद क्या मोहित अपने आगे की पढ़ाई पूरी कर पाएगा,तब ऐसे में भाई की ताकत बनकर मुस्कान आगे आई और मुख्यमंत्री से मिलकर भाई की पढ़ाई के लिए मदद मांगने सीएम हाउस तक पहुंच गयी। सीएम हाउस में उस वक्त मौजूद लोगों ने बताया कि दोनों भाई-बहन ने बहुत संकोच के साथ घबराते हुए सीएम हाउस में एंट्री ली और कुछ देर बाद जब मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मुलाकात हुई,तो सारी घबराहट दूर हो गयी।

भाई के सपने को पूरा करने के लिए बहन ने उठाया बड़ा कदम,भाई के IIM के पढ़ाई के लिए सीएम भूपेश बघेल के पास पहुंची बहन,मिली बड़ी मदद

सीएम ने मुस्कान और मोहित की बातों को बेहद गंभीरता से सुना, मुस्कान ने मुख्यमंत्री को बताया कि दोनों भाई-बहन आंखों की गंभीर जेनेटिक बीमारी से जूझ रहे हैं और मुस्कान के आंखों की रौशनी पूरी तरह जा चुकी है जबकि मोहित अभी कुछ हद तक देख पा रहा है और इस समस्या के साथ पढ़ाई करते हुए उसने एंट्रैंस क्रेक किया है।

दोनों के पिता एक साधारण की प्राइवेट जॉब में हैं और मोहित की पढ़ाई के लिए आर्थिक समस्या आड़े आ रही है। मुस्कान की बातें सुनकर मुख्यमंत्री ने पूछा कि पढ़ाई के लिए कितने पैसों की जरूरत पड़ेगी तब उन्होने बताया कि 25 लाख रू. खर्च होंगे। मुख्यमंत्री ने मदद का भरोसा देते हुए इसका प्रस्ताव कैबिनेट में लाने की बात कही।

इसके बाद जब सीएम ने मुस्कान से पूछा तुम्हे क्या चाहिए तब उनसे अपनी पढ़ाई के लिए मदद से इंकार कर दिया और बताया कि उसे अभी कोई परेशानी नहीं है केवल भाई की पढ़ाई पूरी हो जाए इसी में उसकी भी संतुष्टि है।

मोहित ने कहा बहन ही मेरी मोटिवेटर

मोहित ने बताया कि बहन मुस्कान ने ही उसे कैट की परीक्षा देने के लिए प्रेरित किया और सारे एग्जाम फॉर्म भी मुस्कान ने ही भरे है। मोहित ने कहा कि भले ही मुस्कान मेरी छोटी बहन है लेकिन मुझे आगे बढ़ने का मोटिवेशन वही देती है।

Also Read:Job News: इस तरह करें आवेदन, 10वीं और 12वीं पास के लिए 4300 से ज्यादा पदों पर निकली भर्ती

WhatsApp Image 2023-12-13 at 20.40.08_65298b13
WhatsApp Image 2023-12-13 at 20.40.09_356ebd6b
WhatsApp Image 2023-12-13 at 20.40.09_e447a9bb
previous arrow
next arrow

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button