AAj Tak Ki khabarChhattisgarh

अशासकीय विद्यालय प्रबंधक कल्याण संघ सक्ती द्वारा महिला दिवस पर नारी शक्ति वंदन कार्यक्रम आयोजित

जिला ब्यूरो सक्ती _महेन्द्र कर्ष 

कबीर कुटीर तुर्रीधाम के सभागार का वातावरण शिवमय होने के साथ नारी शक्तियों की उपस्थिति से गरिमामय नजर आ रहा था क्योंकि महाशिवरात्रि के पावन पर्व और महिला दिवस का संयोग के साथ नारी वंदन के कार्यक्रम डा ममता भोजवानी अपर सत्र न्यायाधीश, बी आर साहू अपर सत्र न्यायाधीश, श्रीमती गंगा पटेल मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी, व्यवहार न्यायाधीश दिव्या गोयल, उच्च न्यायालय अधिवक्ता चितरंजय सिंह पटेल के गरिमामय आतिथ्य में कार्यक्रम का शुभारंभ शिव पूजन एवम् रुद्राभिषेक के साथ हुआ।

पश्चात अतिथियों का स्वागत शिक्षिका मधु वैष्णव, संगीता यादव, मिथिलेश यादव, शशि गोंड, नंदिनी पटेल ने किया।

पश्चात अतिथि उद्बोधन के क्रम में स्वागत भाषण करते हुए अशासकीय विद्यालय प्रबंधक कल्याण संघ के प्रदेश अध्यक्ष व उच्च न्यायालय अधिवक्ता चितरंजय पटेल ने नारी को जगत का आधार बताते हुए कहा कि नारी का जहां सम्मान होता है वहां ईश्वर का वास होता है ।उन्होंने आगे कहा कि दर्द भुला, मुस्कुरा कर,रिश्तों में बंद थी दुनिया सारी और हर पग को रोशन करने वाली शक्ति है नारी इसलिए भारतीय संस्कृति नारी हमेशा पूज्यनीय रही है।

सिविल जज दिव्या गोयल ने नारी शक्तियों से आग्रह किया कि आप अपने अधिकार को भलीभांति जाने और लाभ उठावें तो वहीं मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी श्रीमती गंगा पटेल ने बताया कि नारी को मां के गर्भ से ही अधिकारों की प्राप्ति हो जाती है पर जानकारी अभाव में नारी आज भी प्रताड़ित है ।

अपर सत्र न्यायाधीश बलराम साहू ने अपने उद्बोधन में लोगों को महाशिवरात्रि की बधाई देते हुए नारी शक्तियों को समाज की धुरी बताते हुए कहा कि उसके सम्मान से ही समाज का सर्वांगीण विकास संभव है तो वहीं डा ममता भोजवानी ने अपने कविता के माध्यम नारी जगत के विडंबनाओं को रेखांकित करते हुए कहा कि भारतीय संस्कृति में प्रारंभ से वंदनीय है परंतु परतंत्रता के काल में आक्रांताओं के कारण नारी को दोयम दर्जे में रखा गया पर अब वर्तमान नारी शक्तियों की सम्मान की बात संविधान में वर्णित हो रही है । उन्होंने नारी शक्ति का वंदन करते हुए इस आयोजन के लिए आयोजक अशासकीय विद्यालय प्रबंधक संघ के प्रति साधुवाद प्रगट किया।

तदपश्चात सभी नारी शक्तियों को पुष्प गुच्छ एवम् कलम देकर अतिथियों के द्वारा सम्मानित किया गया।नारी शक्ति वंदन कार्यक्रम के तारतम्य में समाज जीवन में विशिष्ट योगदान के लिए श्रीमती कांता यादव, श्रीमती सोनम चंद्रा, श्रीमती अनिता पटेल, श्रीमती फूलकुमारी, श्रीमती लीला महंत को शाल श्रीफल व कलम देकर अभिनंदन किया गया।

साथ ही उपस्थित सभी शिक्षिका सीमा श्रीवास , श्रीमती वेद साहू, आंचल राठौर, माधवी कंवर, प्रिया देवांगन, निर्मला महंत, विद्याकांत, हमाम कुम्हार, आरती काठे, पुष्पांजलि सोनवानी को बेहतर शिक्षकीय कार्य के लिए तथा आयोग के श्रीमती माड़वी साहू, रेखा देवांगन का पुष्प गुच्छ और कलम देकर सम्मान किया गया।

कार्यक्रम का सफल संचालन अशासकीय विद्यालय प्रबंधक संघ के अध्यक्ष दुलीचंद साहू ने किया तो वहीं आभार प्रदर्शन कोषाध्यक्ष सरोज दास महंत ने किया तथा दिनेश साहू, गेंदराम प्रधान, खिलावन साहू, रमेश सोनवानी सोनू चौहान, गौकरण दास वैष्णव आदि स्कूल संचालकों तथा राष्ट्रीय मानव अधिकार एवं सामाजिक न्याय आयोग के डा विजय लहरे, उदय मधुकर, रेवती नंदन पटेल, फागुलाल की विशिष्ट सहभागिता रही।

 

PRITI SINGH

Editor and Author with 5 Years Experience in INN24 News.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button