AAj Tak Ki khabarIndia News UpdateNationalTaza Khabarदेश

भगत सिंह और अंबेडकर के बीच केजरीवाल की तस्वीर लगाने पर विवाद, AAP ने दी सफाई

नई दिल्लीः शहीद भगत सिंह और भीमराव अंबेडकर के बीच अरविंद केजरीवाल की तस्वीर पर आम आदमी पार्टी (आप) ने सफाई दी है। दिल्ली की मंत्री और आप नेता आतिशी ने कहा कि केजरीवाल भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की तानाशाही के खिलाफ चल रहे ‘संघर्ष के प्रतीक’ हैं। आप ने कहा कि सीएम अरविंद केजरीवाल को बीजेपी की केंद्र सरकार ने झूठे आरोप में गिरफ्तार किया है। केजरीवाल आज भाजपा की तानाशाही के खिलाफ चल रहे संघर्ष के प्रतीक हैं और उनकी तस्वीर इस बात का सबूत है। यह हमें याद दिलाने के लिए है। आज भाजपा के खिलाफ जो संघर्ष चल रहा है, वह किसी आजादी की लड़ाई से कम नहीं है।

केजरीवाल की तस्वीर पर विवाद

आतिशी ने कहा कि एक समय था जब देश की जनता अंग्रेजों के खिलाफ संघर्ष करती थी। अरविंद केजरीवाल भी वही कर रहे हैं।  बता दें कि जब केजरीवाल की पत्नी सुनीता जब वीडियो संदेश जारी करती हैं तो उनके पीछे दीवारों पर भगत सिंह और भीमराव अंबेडकर के बीच में अरविंद केजरीवाल की फोटो दिखाई देती है। इसी तस्वीर पर विवाद छिड़ गया है।

सोशल मीडिया पर AAP की आलोचना हो रही है

केजरीवाल को भगत सिंह और अंबेडकर के साथ जोड़ने पर आप को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर आलोचना का सामना करना पड़ा। भाजपा ने भी आप की निंदा की और कहा कि जनता केजरीवाल की पार्टी के बहकावे में नहीं आएगी। दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने कहा कि भगत सिंह जी और बाबासाहेब अंबेडकर के बीच अरविंद केजरीवाल की तस्वीर लगाना अफसोसजनक है। पहले पति कैमरे के सामने झूठ बोलते थे। अब जब वह जेल में है तो वह अपनी पत्नी से झूठ बोलवा रहे हैं।

भगत सिंह और अंबेडकर के बीच केजरीवाल की तस्वीर लगाने पर विवाद, AAP ने दी सफाई

सुनीता केजरीवाल ने केजरीवाल का एक और संदेश पढ़ा

अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता ने बृहस्पतिवार को कहा कि मुख्यमंत्री ने तिहाड़ जेल से एक संदेश भेजकर आम आदमी पार्टी (आप) के सभी विधायकों को अपने निर्वाचन क्षेत्रों में प्रतिदिन जाने और यह सुनिश्चित करने के लिए कहा है कि लोगों को किसी भी समस्या का सामना न करना पड़े। सुनीता ने ‘डिजिटल ब्रीफिंग’ में कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपने संदेश में कहा कि भले ही वह जेल में हैं, लेकिन दिल्ली के दो करोड़ लोग उनका परिवार हैं और उन्हें कोई समस्या नहीं होनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button