AAj Tak Ki khabarChhattisgarh

मुख्यमंत्री छ.ग. शासन द्वारा जिले के पुलिस अधीक्षकों का वर्चुवल मीटिंग लिया गया

जिला ब्यूरो सक्ती महेन्द्र कर्ष

माननीय मुख्यमंत्री द्वारा जिला की कानून व्यवस्था की समीक्षा किया गया। मीटिंग दौरान सख्त निर्देश दिया गया कि पुलिस की छबि आमजनों में साफ सुथरी हो एवं ‘‘ऊपर से कठोर एवं अंदर से नर्म’ होना चाहिए। अपराधियों के मन में पुलिस का ‘‘Terror” होना चाहिए। पुलिस को अपने कर्तव्य के प्रति ईमानदार एवं अनुशासीत होकर कार्य करने हेतु निर्देशित किया गया तथा आमजन में पुलिस की कार्यशैली के प्रति विश्वास दिखाई देवें। इसी तारतम्य में सुश्री अंकित शर्मा पुलिस अधीक्षक जिला सक्ती द्वारा जिला के समस्त थाना/चौकी प्रभारियों का मीटिंग लिया गया। मीटिंग दौरान समस्त थाना प्रभारी/चौकी प्रभारियो को सख्त निर्देश दिया गया कि सामाजिक बुराई जैसे जुआ, अवैध शराब, नशीले पदार्थ की बिक्री करने वालों पर प्रभावी कार्यवाही किया जावे। प्रार्थी/पीड़ित द्वारा थाना रिपोर्ट/शिकायत दर्ज कराने हेतु आने पर उनकी बात शालीनतापूर्वक सुन कर पुलिस कार्यवाही से संतुष्ट किया जावे। संपत्ति संबंधी अपराधों में संलिप्ति आदतन अपराधियों के विरूद्ध निगरानी बदमाश फाईल, आदतन मारपीट, जुआ, शराब/नशीले पदार्थ बिक्री करने वाले अपराधियों के विरूद्ध गुण्डा बदमाश फाईल खोलने बाबत् निर्देशित किया। क्राईम मीटिंग दौरान जिला के सभी थानों के लंबित अपराधों की समीक्षा किया गया तथा समयावधि में निकाल कर न्यायालय पेश करने के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया। महिला संबंधित अपराध/शिकायत को गंभीरता से लेने एवं वरिष्ठ कार्यालय द्वारा जारी परवाना/दिशा निर्देश का पालन करते हुए विधि अनुसार कार्यवाही हेतु निर्देशित किया गया। आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर शांतिपूर्ण निर्वाचन हेतु अपराधिक तत्वों के विरूद्ध प्रतिबंधात्मक धाराओं (151, 107, 116 (3) जा.फौ.) के तहत् प्रभावी कार्यवाही करते हुए भारी रकम से बाउण्ड ओवर करने हेतु निर्देशित किया गया। थाना/चौकी क्षेत्र के ग्रामों में सामुदायिक पुलिसिंग के तहत् ज्याद से ज्यादा ‘‘चलित थाना (संवाद)’’ का आयोजन कर लोगों से मिलकर उनके समस्या को सुनना एवं त्वरित निराकरण करने हेतु निर्देशित किया ताकि आमजन में पुलिस के प्रति जो गलत अवधारण है उसे समाप्त कर उनके मन में पुलिस प्रति विश्वास लाया जावे। थाना/चौकी द्वारा आयोजित ‘‘चलित थाना (संवाद)’’ का फोटो/विडियोग्राफी कर थाना में रजिस्टर संधारण कर रिकॉर्ड दुरूस्त किया करने हेतु निर्देशित किया गया। जिला में व्हीआईपी आगमन दौरान उनके सुरक्षा/ड्यूटी के संबंध में आवष्यक दिशा निर्देश दिया गया। जिला के अधिनस्थ समस्त मातहत अधिकारी/कर्मचारियों को अनुशासित/ईमानदार रहकर बिना पक्षपात के कर्तव्य का निर्वाहन करने हेतु निर्देशित किया गया तथा आमजनों से मित्रवत व्यवहार करें जिससे पुलिस के प्रति उनका विश्वास बढ़े एवं पुलिस एवं आमजनों के बीच ‘‘विश्वास’ सेतु का कार्य करेगा। सड़क दुर्घटना को कम करने के लिए अति संवेदनशील इलाकों में यातायात मित्र बनाने पर विशेष ध्यान देने समस्त थाना /चौकी प्रभारी को निर्देशित किया गया।

 

PRITI SINGH

Editor and Author with 5 Years Experience in INN24 News.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button