Chhattisgarh

10 वर्ष पूर्व एटीएम से 25 लाख रुपए लेकर फरार हुए आरोपी को पकड़ने में पुलिस को मिली सफलता..

 

जगदलपुर inn24 ( रविंद्र दास)मामले का विवरण इस प्रकार है कि आरोपी जावेद अली और इरफ़ान अली दोनो लाजिकैश कम्पनी मे एटीएम मशीन मे कैश डालने क़ा काम नगरनार, बकावंड और जगदलपुर के एटीएम मे करते थे, जो उसी बैंक के शाखा से पैसे लेकर उसके सम्बन्धित एटीएम मे पैसे डालते थे, कम्पनी को दोनो भाइयो ने गुमराह करके दोनो सगे भाई होने की जानकारी छीपाकर दोनो एक साथ कैश लोडिंग करते थे इसी क़ा फायदा उठाते हुए दोनो भाइयो ने एटीएम के पैसे को चोरी करने के नियत से योजना बनाया और दिनांक 11.07.2014 को आरोपी जावेद अली ने स्टेट बैंक के शाखा प्रबंधक से 19 लाख रुपये लेकर उसे बकावंड स्थित एटीएम मे दोपहर के वक्त डाला फिर शाम को करीबन 5.00-5.30 के मध्य पुनः एटीएम मशीन बकावंड मे जाकर कैमरा मे स्प्रे डालकर उसमे रखे 2408600/- ( चौबीस लाख आठ हजार छः सौ रुपये) को चोरी कर ले गया और दोनो भाई उक्त चोरी की रकम को आपस मे बांट लिए। विवेचना के दौरान आरोपी जावेद अली गिरफ्तार हो चुका था एवं उसका भाई आरोपी इरफ़ान अली घटना कारित करके फरार था। मामले की गंभीरता और विगत 10 वर्षो से पेंडिग अपराध को देखते हुए उप महानिरीक्षक व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक  जितेन्द्र सिंह मीणा के द्वारा थाना प्रभारी बकावंड निरीक्षक दिनेश यादव के नेतृत्व मे टीम गठित कर आरोपी को शीघ्र पकड़ने निर्देशित करने पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र सिंह मीणा के सतत दिशा निर्देश व मार्गदर्शन मे तथा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक माहेश्वर नाग, पुलिस अनुविभागीय अधिकारी भानपुरी  घनश्याम कामड़े व नगर पुलिस अधीक्षक जगदलपुर  विकास कुमार (IPS) के मार्गदर्शन मे फरार आरोपी इरफ़ान अली की लगातार पतासाजी की जा रही थी जो दिनांक 22/12/23 को मुखबिर से सूचना मिला की आरोपी इरफ़ान अली जगदलपुर मे घूम रहा है, प्राप्त सूचना की तसदिक व आरोपी की धरपकड़ वास्ते जगदलपुर रवाना होकर पतासाजी किया गया जो आरोपी बस स्टैंड तिराहा के पास स्कूटी मे घूम रहा था, जो पुलिस को देखकर भाग रहा था जिसे दौड़ाकर पकड़ा गया। आरोपी से घटना के सम्बन्ध मे पूछताछ करने पर आरोपी ने अपने भाई को अपना गोपनीय पासवर्ड बताकर घटना करना कबूल किया।आरोपी इरफ़ान अली को ज्यूडिशियल रिमांड पर भेजा गया है। उक्त कार्यवाही मे थाना बकावंड के प्र.आर. मोहन कश्यप, आर. राहुल नेताम, दीजिंद्र शुक्ला, जगत कश्यप, केशव राणा, अमृत कुजूर, भीष्म ठाकुर की भूमिका सराहनीय रही

Ravindra Das Bureau Bastar

ब्यूरो चीफ बस्तर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button