Chhattisgarh

बस्तर की दो महिला नक्सलियों का मध्य प्रदेश में एनकाउंटर:बालाघाट मुठभेड़ में मारी गईं, दोनों पर 28 लाख रुपए का था इनाम

मध्यप्रदेश के बालाघाट में पुलिस और नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ में दो महिला माओवादियों को ढेर किया गया है। दोनों महिला माओवादी छत्तीसगढ़ के बस्तर की रहने वाली थी। मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र के बॉर्डर इलाके में सक्रिय थी। इन पर कुल 28 लाख रुपए का इनाम घोषित था।

इन दोनों महिला माओवादियों पर छत्तीसगढ़ सरकार की तरफ से 5 लाख, महाराष्ट्र सरकार ने 6 और मध्य प्रदेश सरकार ने 3 लाख रुपए का इनाम घोषित किया था। दोनों माओवादी ACM (एरिया कमेटी मेंबर) के रूप में सक्रिय थी। दोनों 14-14 लाख रुपए की हार्डकोर इनामी नक्सली थी।

दरअसल, इनमें से एक मृत महिला नक्सली का नाम सुनीता उर्फ सोमड़ी मंडावी है। जो सुकमा जिले के जगरगुंडा की रहने वाली थी। सुनीता सिर्फ छ्त्तीसगढ़ में ही 5 से ज्यादा बड़ी वारदातों में शामिल थी। बताया जा रहा है कि, कई साल पहले ये नक्सलियों के दल में शामिल हुई थी। जिसके बाद इसकी फुर्ती देखकर नक्सली इसे अलग-अलग इलाकों की जिम्मेदारी दिए थे। वर्तमान में यह एरिया कमांडर के रूप में सक्रिय थी। MP, CG और महाराष्ट्र में उत्पात मचा रही थी।

चिंतलनार की रहने वाली थी
दूसरी मृत महिला नक्सली का नाम सरिता उर्फ बिज्जे है। बिज्जे भी सुकमा जिले के चिंतलनार इलाके की रहने वाली थी। सुनीता और बिज्जे ने लगभग एक ही समय में नक्सल संगठन जॉइन किया था। दोनों नक्सली हार्डकोर नक्सली कमांडर हिड़मा के क्षेत्र की ही रहने वाली थी। सरिता को भी बड़े नक्सल लीडर्स ने बालाघाट एरिया में नक्सल संगठन को मजबूती देने कर लिए भेजा था। सरिता छ्त्तीसगढ़ में सिर्फ 2 घटनाओं में ही शामिल रही है।

ऐसे हुआ एनकाउंटर
मध्यप्रदेश के नक्सल प्रभावित बालाघाट के गढ़ी थाना इलाके में कदला के जंगल में शुक्रवार-शनिवार की रात तड़के 3 बजे पुलिस-नक्सली मुठभेड़ हुई थी। जिसमें जवानों ने 2 महिला नक्सलियों सुनीता और सरिता को मुठभेड़ में ढेर कर दिया था। मौके पर कई हथियार समेत अन्य विस्फोटक सामान भी बरामद किया गया था।

PRITI SINGH

Editor and Author with 5 Years Experience in INN24 News.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button