AAj Tak Ki khabarChhattisgarhTrending News

कांग्रेस नेता और IPS अधिकारी के बीच हाथापाई, झगड़ा हुआ तो एक-दूसरे को पीटा, थाने के अंदर कांग्रेसियों का हंगामा

जगदलपुर में कांग्रेस नेता और सांसद प्रतिनिधि सुशील मौर्य की CSP विकास कुमार(IPS) के साथ हाथापाई हुई है। बताया जा रहा है कि सिटी कोतवाली के अंदर दोनों के बीच बहस हुई थी। विवाद काफी बढ़ गया। जिसके बाद दोनों ने एक दूसरे को पीट दिया। पुलिस जवानों और अन्य कांग्रेसियों ने बीच बचाव किया। मामले के बाद थाने में बवाल शुरू हो गया। बड़ी संख्या में कांग्रेस थाने पहुंच गए और जमकर हंगामा किया है।

दरअसल, कांग्रेस नेता सुशील मौर्य का कहना है कि, हमारे कांग्रेस के कार्यकर्ता महेश द्विवेदी ने मुझे कॉल कर बताया कि सिटी कोतवाली में CSP विकास कुमार ने मुझे एक लात मार दी है। जिसके बाद मैं थाने पहुंचा। CSP से पूछा आपने उसे लात कैसे मार दी, तो CSP का जवाब रहा कि वो गुटखा खा कर आया है और मारूंगा। जिसके बाद मैंने कहा कि यदि उसने गुटखा खाया है तो मना कर दीजिए कि परिसर में गुटखा खाकर न आए। लेकिन लात मारना यह कहां तक सही है।

इसके बाद सीएसपी ने मुझे भी मारने की धमकी दी। थोड़ी देर बाद CSP, और 2 TI के साथ मैं रूम में अकेला था। CSP के साथ बहसबाजी हुई। उन्होंने मुझपर भी हाथ उठा दिया। मेरे साथ भी हाथपाई हुई है। हालांकि इस संबंध में पुलिस अधिकारियों की तरफ से कोई बयान सामने नहीं आया है।

कार्यकर्ता बोले-माफी मांगें सीएसपी

इस मामले के बाद एकाएक कांग्रेस के कार्यकर्ताओं की भीड़ थाना परिसर में उमड़ने लगी। जमकर हंगामा किया गया। कांग्रेस के कार्यकर्ताओं की मांग थी कि सीएसपी उनसे माफी मांगे जिसके बाद ही मामला शांत होगा। वहीं जगदलपुर ASP निवेदिता पॉल ने कहा कि, अंदर लगे CCTV फुटेज को खंगाला जाएगा। जिसके बाद कांग्रेसियों ने भी तीन दिन का समय दिया है। फिलहाल मामला शांत हो गया है।

टीआई के चेंबर में बिठाया

उधर, CSP विकास कुमार (IPS) की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए पुलिस अधिकारियों ने उन्हें सिटी कोतवाली प्रभारी के चेंबर में ही बैठाया गया था। बाहर में जवानों की तैनाती की गई थी। कांग्रेसी कार्यकर्ता लगातार थाना परिसर के अंदर घुस रहे थे और CSP को बाहर निकालने की कोशिश कर रहे थे। तनावपूर्ण स्थिति को देखते हुए ASP, DSP के अलावा आस-पास के थाना के थाना प्रभारियों को भी मौके के लिए बुला लिया गया था

इस मामले की जानकारी मिलते ही जगदलपुर विधानसभा से MLA रेखचंद जैन और कांग्रेस के जिला अध्यक्ष रजीव शर्मा भी मौके पर पहुंचे थे। बाद में काफी हंगामे के बाद मामला शांत हुआ है।

PRITI SINGH

Editor and Author with 5 Years Experience in INN24 News.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button