Chhattisgarh

कलेक्टर की मानवीय संवेदना जन चौपाल में देवकी की मां ने किया था निवेदन..

मोतियाबिंद से पीड़ित देवकी के एक आंख का सफल ऑपरेशन

 

जगदलपुर inn24..मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के मंशानुसार प्रशासन का प्रयास है कि हर जरूरतमंद व्यक्ति को स्वास्थ्य सेवाएं का लाभ मिले। इसी प्रयास में बस्तर जिले के अतिसंवेदनशील क्षेत्र की हर्राकोड़ेर में रहने वाली देवकी ठाकुर का दाई आँख का मोतियाबिंद का सफल ऑपरेशन किया गया। 15 वर्षीय देवकी ठाकुर कक्षा सातवीं में पढ़ाई करती है, देवकी को बचपन से दोनों आंख में मोतियाबिंद था। जिसका इलाज शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय अस्पताल, डिमरापाल में शनिवार को दाई आंख का मोतियाबिंद का सफल ऑपरेशन किया गया, ऑपरेशन नेत्र चिकित्सक एवं नोडल अधिकारी डॉ. सरिता थॉमस एवं टीम ने किया। ऑपरेशन के उपरांत देवकी को ठीक से दिखाई देने लगा है।

ज्ञात हो कि कलेक्टर श्री विजय दयाराम के. एक जून को लोहंडीगुड़ा विकासखंड हर्राकोडेर में चौपाल लगाकर कर ग्रामीणों से संवाद कर रहे थे तभी देवकी की माँ ने अपनी बच्ची की आंख और मानसिक समस्या के बारे में बताई। कलेक्टर ने तत्काल बीएमओ लोहंडीगुड़ा डॉ नारायण नाग को बच्ची देवकी को बेहतर इलाज के लिए जिला अस्पताल या मेडिकल अस्पताल ले जाकर उपचार करवाने के निर्देश दिए थे। इसके परिपालन में लोहंडीगुड़ा स्वास्थ्य केंद्र की टीम ने डिमरापाल मेडिकल अस्पताल में पहुँचा कर देवकी के एक आंख का मोतियाबिंद का सफल ऑपरेशन करवाया। दोनों आंखों के इलाज के उपरांत उसके मानसिक बीमारी का कॉउंसलिंग किया जाएगा।

जिला प्रशासन के मार्गदर्शन में स्वास्थ्य विभाग बस्तर जिले को मोतियाबिंद मुक्त जिला बनाने हेतु मिशन मोड में कार्य कर रही है। जिस हेतु सघन सर्वे अभियान 15 मई से प्रारंभ किया गया था, सर्वेक्षण में चिन्हांकित मोतियाबिंद मरीजों का ऑपरेशन प्रारंभ कर दिया गया है। मोतियाबिंद सर्वे के दौरान कुल 35 मरीजों के मोतियाबिंद ऑपरेशन किये गये हैं। नियमित रूप से शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय अस्पताल, डिमरापाल में ऑपरेशन किये जा रहे है। अभियान अंतर्गत सभी आयु वर्ग के लोगों का निःशुल्क स्क्रिनिंग, जांच एवं उपचार की सुविधा उपलब्ध कराई गई है।

Ravindra Das Bureau Bastar

ब्यूरो चीफ बस्तर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button