देव भूमि में कब्जे के विवाद को लेकर दो ग्राम पंचायत के लोगो मे झड़प, चले तलवार, हसिया और गंडासा, कई ग्रामीण सहित वन कर्मी घायल || INN24

देव भूमि में कब्जे के विवाद को लेकर दो ग्राम पंचायत के लोगो मे झड़प, चले तलवार, हसिया और गंडासा, कई ग्रामीण सहित वन कर्मी घायल

Total Views : 158
Zoom In Zoom Out Read Later Print

जंगल आर एफ 1341 में अवैध कटाई कर अतिक्रमण की शिकायत

छग/दंतेवाड़ा:  ग्राम पंचायत समलूर से लगे जंगल आर एफ 1341 में अवैध कटाई कर अतिक्रमण की शिकायत समलूर ग्राम पंचायत के निवासियों ने कलेक्टर से की थी। साथ ही आवश्यक कार्यवाही की मांग उन्होंने कलेक्टर महोदय से की थी। लेकिन आज उसी मामले को लेकर कासोली ग्राम पंचायत के आश्रित ग्राम बुधपदर,जपोड़ी व ग्राम पंचायत समलूर के लोगो के मध्य विवाद हो गया और विवाद इतना बढ़ गया कि दोनों ही तरफ के लोग अपने अपने पारंपरिक औजारों तलवार, हसिया, गंडासा, तीर - धनुष के साथ विवादास्पद जगह पर पहुच गये। और उन्होंने राष्ट्रीय राजमार्ग 63 को चक्काजाम कर बन्द कर दिया। और दोनों पंचायत के लोगो के मध्य विवाद इतना बढ़ गया कि  कि आपसी झड़प में कई ग्रामीण वन कर्मी घायल हो गये। जिनका प्राथमिक उपचार सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गीदम मे करवाया गया। वन परिक्षेत्र गीदम की टीम सुबह से मौके पर तैनात थी। साथ ही घटना की जानकारी मिलने ही थाना प्रभारी गीदम अजय सिन्हा भी अपने दल बल के साथ मौके पर पहुचे व मामले को शांत करवाया। दरअसल मामला यह है कि  समलूर के लोगो का कहना है कि कासोली ग्राम पंचायत के आश्रित ग्राम बुधपदर,जपोड़ी व बड़े कारली के लोग हमारी देव भूमि में अवैध कटाई कर जबरन कब्जा कर रहे है। दोनों ग्राम पंचायतों की सीमा एक दूसरे से जुड़ी हुई है। वन प्रबंधन समिति समलूर रिर्जव फॉरेस्ट 1341 की देख रेख करती है।जबकि वही दूसरी तरफ ग्राम पंचायत कासोली के ग्रामीणों का आरोप है समलूर ग्राम पंचायत के निवासी उनके उनकी पंचायत के आश्रित ग्राम जपोड़ी की जमीन पर बेजा कब्जा कर रहे है। इसके लिये विगत 2-3 वर्ष पूर्व से ग्राम पंचायत कासोली का ग्राम पंचायत समलूर के साथ विवाद चल रहा है। हमारा दंतेवाड़ा जिला अनुसूचित जन जाति बाहुल्य जिला है। जिसके कारण यहाँ 5वी अनुसूची लागू है। 5वी अनुसूची लागू क्षेत्रों में रूढ़ि परम्परा एवं देव सीमा के आधार पर ग्राम पंचायतों के क्षेत्रफल का निर्धारण किया जाता है।

सवांददाता विजय पचौरी, बस्तर

See More

Latest Photos