यहां मौत का अहसास कराने ताबूत में जिंदा दफ़न किये जाते है लोग.. 25 हजार लोगों ने कराया जीते जी अपना अंतिम संस्कार.. किया है मौत को महसूस. || INN24

यहां मौत का अहसास कराने ताबूत में जिंदा दफ़न किये जाते है लोग.. 25 हजार लोगों ने कराया जीते जी अपना अंतिम संस्कार.. किया है मौत को महसूस.

Total Views : 396
Zoom In Zoom Out Read Later Print

बीते 7 साल में करीब 25 हजार लोग जीवित रहते हुए अंतिम संस्कार की प्रक्रिया से गुजर चुके हैं.

साउथ कोरिया मे लोग जिंदगी को बेहतर ढंग से समझने के लिए मौत का एहसास कर रहे हैं.

दरअसल लिविंग फ्यूनरल की पेशकश ह्युवन हीलिंग कंपनी ने सन 2012 में की थी. कंपनी का दावा है कि लोग स्वेच्छा से उनके पास आ रहे हैं. उन्हें उम्मीद है कि जीवन खत्म होने से पहले मौत एहसास करते हुए अपनी जिंदगी बेहतर बना सकते हैं.

75 साल के चो-जे-ही कहा है कि एक बार जब आप महसूस कर लेते हैं वह अलर्ट हो जाते हैं. अब आप जीवन में एक नया दृष्टिकोण अपनाते है. चो ने हाल में ही ह्योवों हीलिंग सेंटर के डाइंग वेल प्रोग्राम में फ्यूनरल लिविंग को अनुभव किया है. 15 से 75 साल की उम्र के लोगों ने हिस्सा लिया. यहां लोग करीब 10 मिनट तक एक ताबूत कफन ओढ़ कर लेटे रहे और महसूस किया कि मौत के बाद उनके साथ क्या हो सकता है.


See More

Latest Photos