योगी के मंत्री रघुराज सिंह ने मुस्लिम महिलाओं के हिजाब पर दिया विवादित बयान.. त्रेता युग का उदाहरण देते हुए कहा- हमारे देश में भी बुर्के पर प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए. || INN24

योगी के मंत्री रघुराज सिंह ने मुस्लिम महिलाओं के हिजाब पर दिया विवादित बयान.. त्रेता युग का उदाहरण देते हुए कहा- हमारे देश में भी बुर्के पर प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए.

Total Views : 168
Zoom In Zoom Out Read Later Print

शाहीन बाग़ में लोग बुर्का पहनकर बैठे हैं. बुर्का चोर चकोरों को एक प्रकार से आड़ दिलाने का काम करता है.

यूपी/अलीगढ: यूपी सरकार के राज्य मंत्री रघुराज सिंह लगातार विवादित बयानों से सुर्खियां में बने हुए है. पहले एएमयू छात्रों को ज़िंदा गाड़ देने की बातें करने वाले मंत्री ने अब मुस्लिम महिलाओं के हिजाब पर एक और विवादित बयान दिया है. उन्होंने कहा कि श्रीलंका सहित अन्य कई देशों ने बुर्के पर प्रतिबंध लगाया हुआ है. इसलिए हमारे देश में भी इस पर प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि इस फैसले से आतंकवादी हमले से छुटकारा पाया जा सकता है. उनका कहना है कि बैंकों में जिस प्रकार से अगर आप बुर्का पहनकर जाओगे तो टीवी में नहीं आ पाओगे. आपकी शक्ल छिप जाएगी. शाहीन बाग़ में लोग बुर्का पहनकर बैठे हैं. बुर्का चोर चकोरों को एक प्रकार से आड़ दिलाने का काम करता है. बदमाशों को आतंकवादियों को इससे आड़ मिल जाती है. इसलिए बुर्का बैन किया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि देश में पीएम मोदी और यूपी में सीएम योगी की सरकार है. इस नाते मैंने यह आग्रह किया है कि बुर्का बैन किया जाना चाहिए. जब बुर्का बैन हो जाएगा तो उससे आतंकवादियों का प्रवेश भी बंद हो जाएगा. क्योंकि आतंकवादी महिलाओं के भेष में अंदर घुसना चाहते हैं. कल ब्राह्मण महासभा के एक कार्यक्रम में मैंने ये कहा था. बुर्का कहां से आया. ये आपको बता देता हूं ये अरब से आया. उन्होंने त्रेता युग का उदाहारण देते हुए कहा राम और लक्ष्मण जी के समय में जब शूर्पणखा के नाक व कान काटे काट दिए थे तो वह अरब चली गईं थीं और वहां पर सिर्फ आंख खोलकर वह अपने आप को छिपाकर रहती थीं. वहां से बुर्का का चलन शुरू हुआ.

See More

Latest Photos