पल्स पोलियो अभियान में प्रदेश के करीब 36 लाख बच्चों को पिलाई जाएगी दवा. || INN24

पल्स पोलियो अभियान में प्रदेश के करीब 36 लाख बच्चों को पिलाई जाएगी दवा.

Total Views : 134
Zoom In Zoom Out Read Later Print

19 जनवरी को निर्धारित बूथों में एवं 20-21 जनवरी को मोबाइल टीमों द्वारा पिलाई जाएगी पोलियो ड्रॉप, अभियान के लिए बनाए गए हैं 14,396 बूथ और 28,792 टीमें गठित.

रायपुर : राष्ट्रीय सघन पल्स पोलियो कार्यक्रम के तहत 19 जनवरी को शून्य से पांच वर्ष तक के बच्चों को पोलियो की दवा पिलाई जाएगी। इसके लिए प्रदेश भर में 14 हजार 396 बूथ बनाए गए हैं। 19 जनवरी को पोलियो ड्रॉप पीने से छूट गए बच्चों को पल्स पोलियो अभियान के लिए गठित मोबाइल टीमें 20 और 21 जनवरी को घर-घर जाकर दवा पिलाएंगी। तीन दिवसीय इस व्यापक अभियान के लिए 28 हजार 792 टीमें गठित की गई हैं।  अभियान के दौरान प्रदेश के करीब 36 लाख बच्चों को पोलियो की दवा पिलाने का लक्ष्य है।
पल्स पोलियो अभियान को सफल बनाने स्वास्थ्य विभाग द्वारा सभी जिलों के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों, सिविल सर्जन तथा सह अधीक्षक जिला अस्पताल और जिला टीकाकरण अधिकारियों को व्यापक दिशा-निर्देश दिए गए हैं। उच्च जोखिम वाले, कठिन व पहुंचविहीन, नियमित टीकाकरण व पिछले अभियानों में कम उपलब्धि वाले तथा सर्वाधिक पलायन वाले श्रमिक क्षेत्रों के लिए विशेष सूक्ष्म कार्ययोजना तैयार कर लक्षित सभी बच्चों को पोलियो की दवा पिलाई जाएगी।
19 से 21 जनवरी तक तीन दिवसीय सघन पल्स पोलियो अभियान के दौरान मेलों, सामूहिक उत्सवों और प्रमुख रेलवे स्टेशनों में भी बच्चों को पोलियो ड्रॉप पिलाने की व्यवस्था रहेगी। नवजात तथा पांच वर्ष तक की आयु का कोई भी बच्चा पोलियो की दवा पीने से छूट न जाए, इसके लिए टीकाकरण दलों द्वारा घर-घर भ्रमण किया जाएगा। प्रदेश के सभी मेडिकल कॉलेज अस्पतालों, जिला चिकित्सालयों, शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों और प्रसूति गृहों के मुख्य द्वार के पास पोलियो ड्रॉप पिलाने स्वास्थ्य विभाग की टीम तीनों दिन सवेरे आठ बजे से रात आठ बजे तक मौजूद रहेंगी। अभियान के प्रभावी संचालन के लिए दो हजार 879 पर्यवेक्षक भी तैनात किए गए हैं।

See More

Latest Photos