दंतेवाड़ा: मुखबिरी के शक में नक्सलियों ने पति-पत्नी को कर लिया था अगवा.. जान बचाकर भागे तो पहुंचे पुलिस के पास.. || INN24

दंतेवाड़ा: मुखबिरी के शक में नक्सलियों ने पति-पत्नी को कर लिया था अगवा.. जान बचाकर भागे तो पहुंचे पुलिस के पास..

Total Views : 208
Zoom In Zoom Out Read Later Print

.

धुर नक्सल प्रभावित जिला दंतेवाड़ा में माओवादी लीडर देवा एवं विनोद के द्वारा पूर्व सरपंच बुदरी कुंजाम पिता भीमा कुंजाम एवं भीमा कुंजाम पिता देवा कुंजाम ग्राम हिरोली के ऊपर पुलिस का मुखबिरी होने का आरोप लगाकर जान से मारने हेतु बंधक बनाया गया था, किसी तरह अपनी जान बचाकर थाना बचेली पहुँचे. नक्सली पीड़ित दम्पत्ति को पुलिस अधीक्षक दंतेवाड़ा डॉ अभिषेक पल्लव द्वारा 10-10 हजार रुपए प्रोत्साहन राशि प्रदान किया गया नक्सली अब लगाता अपने ही साथियों को मौत के घाट उतारने की फिराक में हैं. गनीमत यह रही कि किसी प्रकार से नक्सली पति-पत्नी नक्सलियों के चुंगल से छूटकर पुलिस के शरण में पहुंचे पुलिस ने भी उनका स्वागत करते हुए समाज की मुख्यधारा में जुड़वाया नक्सलियों के चुंगल से छूट के आए नक्सलियों से नक्सल गतिविधियों की  जानकारी भी निकल कर सामने आ सकती है.
        
संवाददाता विजय पचौरी छत्तीसगढ़ दंतेवाड़ा

See More

Latest Photos