करवाचौथ की रात प्रेमिका का व्रत तोड़ने पहुंचा था प्रेमी युवक.. परिजनों के चढ़ गया हत्थे.. नीम के पेड़ में बांधकर रात भर की पिटाई.. || INN24

करवाचौथ की रात प्रेमिका का व्रत तोड़ने पहुंचा था प्रेमी युवक.. परिजनों के चढ़ गया हत्थे.. नीम के पेड़ में बांधकर रात भर की पिटाई..

Total Views : 1,295
Zoom In Zoom Out Read Later Print

पूरी घटना 17 अक्टूबर की रात एक बजे से लेकर 18 अक्टूबर की सुबह के बीच की बताई जा रही है. थाना प्रभारी परमेश्वर पाटीदार ने मामले की जांच हैड कांस्टेबल भंवर सिंह को दी है.

राजस्थान/डूंगरपुर: जिले के वैंजा गांव में करवाचौथ की रात काे प्रेमिका से मिलना एक युवक को भारी पड़ गया. प्रेमिका के परिजनों ने युवक को पीछा कर पकड़ लिया. उसके बाद पेड़ से बांधकर जमकर मारपीट की. युवक को रातभर पेड़ से बांधे रखा. सुबह को सूचना मिलने पर वैंजा चौकी टीम मौके पर पहुंची अाैर युवक को छुड़ाया. वहीं पुलिस ने इस मामले में छह जनों के खिलाफ केस दर्ज किया है.

दरअसल, रंगेला फला दुधेली का भाटड़ा निवासी भूपेंद्र पुत्र अर्जुनलाल कटारा का वैंजा गांव की युवती से पिछले दो वर्ष से प्रेम प्रसंग चल रहा था. दोनों छिप-छिपकर एक दूसरे को मिलते थे. युवक ने पुलिस काे बताया कि 17 अक्टूबर का करवा चौथ का व्रत होने के कारण प्रेमिका ने कॉल करके बुलाया था. इस पर रात 12 बजे युवक मिलने उसके गांव गया. उसके घर से एक किलोमीटर दूर पशु चिकित्सालय के पास दोनों आपस में बात कर रहे थे. इस दौरान रात करीब एक बजे युवती के परिजन अा गए. इस पर युवक दौड़कर भागने का प्रयास करने लगा, लेकिन युवती के परिजनों ने पकड़ लिया.

आरोपियों के घर के सामने नीम के पेड़ पर रस्सी से बांध दिया. प्रेमिका के परिवार से छह-सात जनों ने लट्ठ-लात, मुक्कों से मारपीट की. आरोपियों ने युवक को पूरी रात नीम के पेड़ से बांधे रखा और मारपीट की. 18 अक्टूबर की सुबह 9 बजे वैंजा पुलिसकर्मी गांव पहुंचे अाैर युवक को छुड़ाया. इसके बाद युवक को चौकी पर ले कर गए. सूचना मिलने पर युवक के परिजन भी चौकी पहुंच गए. पुलिस की मदद से युवक को अस्पताल ले जाया गया. जहां पर उसका इलाज कराया गया.

रामसागड़ा पुलिस ने पीडि़त युवक की रिपोर्ट पर वैंजा निवासी आरोपी नारायण पुत्र जग नाथ कटारा, सुरेश पुत्र नारायण, लोकेश पुत्र नारायण, महिपाल पुत्र नारायण, सुरेश का जीजा व अन्य दो तीन व्यक्तियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है. बताया जा रहा है कि पुलिस को गांव से ही किसी ने कॉल कर घटना के बारे में बताया था.

See More

Latest Photos