राजस्थान/बिजौलियां: अवैध खनन की कार्रवाही में बरती जा रही लापरवाही.. सर्वेयर पर कार्रवाही के लिए माइनिंग इंजीनियर ने की अनुशंसा. || INN24

राजस्थान/बिजौलियां: अवैध खनन की कार्रवाही में बरती जा रही लापरवाही.. सर्वेयर पर कार्रवाही के लिए माइनिंग इंजीनियर ने की अनुशंसा.

Total Views : 25
Zoom In Zoom Out Read Later Print

आलाधिकारियों को पत्र लिख कर निलम्बन की अनुशंसा कि बीते दो सप्ताह के बाद भी दोनों कारिंदों के खिलाफ विभागीय अधिकारियों द्वारा अब तक कोई कार्रवाई नहीं किया गया.

राजनैतिक आका मेहरबान हो तो अद से कारिंदे भी अधिकारियों पर भारी पड़ते नजर आते हैं. ऐसा ही मामला बिजौलियां खनिज विभाग में देखने को मिला है. जहां कार्यरत दो कर्मचारियों फोरमैन अब्दुल मुत्तलिब और सर्वेयर आरती गंगवार को निलंबित करने के लिए माइनिंग इंजीनियर आसिफ मोहम्मद अंसारी ने आलाधिकारियों को पत्र लिख कर निलम्बन की अनुशंसा कि बीते दो सप्ताह के बाद भी दोनों कारिंदों के खिलाफ विभागीय अधिकारियों द्वारा अब तक कोई कार्रवाई नहीं किया गया. क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ हैं. खनिज विभाग के इतिहास में ये पहला मामला हैं जब एक अधिकारी द्वारा अवैध खनन के खिलाफ कार्रवाई में लापरवाही बरतने पर अपने ही मातहत कर्मियों के निलंबन की अनुशंसा की गई हैं.
अवैध खनन के प्रति कार्रवाई को लेकर ढुलमुल रवैया अपनाने के कारण दोनों कारिंदे लम्बे अरसे से खनन माफियाओं के चहेते बने हुए हैं. चर्चा हैं कि इन्हीं खनन माफियाओं से 'हम प्याला हम निवाला' रसूखात निभाने के लिए दो अलग-अलग राजनीतिक पार्टियों के नेता इन कारिंदों को निलम्बन की कार्रवाई से बचाने का दबाव बनाए हुए हैं.


See More

Latest Photos