CHHATTISGARHRAIPUR NEWS

शासकीय दूधाधारी बजरंग महिला महाविद्यालय में श्री दुधाधारी मठ रायपुर की प्रतिमा का लोकार्पण

सिंह कुर्रे की रिपोर्ट

शासकीय दूधाधारी बजरंग महिला महाविद्यालय में परमपूज्य ब्रह्मलीन राजेश्री महंत बजरंग दास जी महाराज ,श्री दुधाधारी मठ रायपुर की प्रतिमा का लोकार्पण मुख्य अतिथि माननीय श्री उमेश पटेल जी , मंत्री उच्च शिक्षा एवं तकनीकी शिक्षा ,विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी ,कौशल विकास ,खेल एवं युवा कल्याण , छत्तीसगढ़ शासन के करकमलों से संपन्न हुआ ।कार्यक्रम की अध्यक्षता माननीय श्री राजेश्री महंत डॉ रामसुंदर दास जी ने की । प्राचार्य डॉ किरण गजपाल ने मंत्री महोदय के समक्ष महाविद्यालय का प्रतिवेदन पढ़ा और छात्राओं के लिए आवश्यकताओं की मांग प्रस्तुत की, उन्होंने कहा कि माननीय मंत्री जी के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ का उच्च शिक्षा विभाग नई ऊंचाइयों को छू रहा है । 1958 को स्थापित हमारा महाविद्यालय B++ ग्रेड के साथ प्रगति के नए सोपान तय कर रहा है । आईक्यूएसी प्रभारी डॉ उषाकिरण अग्रवाल ने कार्यक्रम का सफल संचालन किया । माननीय मंत्री श्री उमेश पटेल जी ने कहा कि छात्राओं की आवश्यकता के अनुसार नए हॉस्टल और क्लास रूम निर्माण की घोषणा करता हूं। उन्होंने कहा कि आज 160 महाविद्यालय नैक से एक्रेडिटेड है पहले केवल 40 ही थे इसके लिए हमने उत्साहित किया। भविष्य का लक्ष्य है कि क्राइटेरिया में आने वाले प्रत्येक महाविद्यालय का हम नैक मूल्यांकन कराएंगे । प्राध्यापक भर्ती प्रक्रिया भी शीघ्र प्रारंभ की जाएगी । कोई प्राइवेट एजेंसी दूरस्थ एरिया में कॉलेज खोले तो उसे 50% सब्सिडी दी जाएगी ।अब मेरिट के अनुसार विद्यार्थियों का प्रवेश होगा इसके लिए केंद्रीयकृत व्यवस्था बनाई जाएगी । यहां की छात्राएं सभी ओर पदस्थ हैं यहां और संभावनाएं बने इस लिए यहां फोकस किया जाएगा । अध्यक्ष राजेश्री महंत डॉ रामसुंदर दास जी ने कहा कि आज मेरे गुरु की प्रतिमा का अनावरण है जिन्होंने अपने गुरु के नाम से इस संस्थान हेतु दान दिया था मेरा हृदय प्रफुल्लित और कृतकृत्य है ।महंत जी ने कहा कि जब भारत स्वतंत्र भी नहीं हुआ था तब से शिक्षा के क्षेत्र में दूधाधारी मठ द्वारा सतत दान देकर शालाओं और महाविद्यालयों के निर्माण हेतु सफल प्रयास किया गया । इस महाविद्यालय को मठ द्वारा भूमि दान की गई और आज यहां की छात्राओं की उन्नति देखकर पूरा छत्तीसगढ़ गौरवान्वित होता है । जितेन्द्र मुदलियार जी ने कहा कि छत्तीसगढ़ में उच्च शिक्षा का बहुत सकारात्मक वातावरण बना है और युवा देश भर में नाम रौशन कर रहे हैं । कुलपति डॉ केसरी लाल वर्मा जी ने भी छात्राओं को शुभाशीष दिया । आभार प्रदर्शन डॉ श्रद्धा गिरोलकर ने किया । डॉ स्वप्निल कर्महे के मार्गदर्शन में छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए । राज्यगीत के साथ कार्यक्रम प्रारंभ हुआ । अंत में सभी अतिथियों को स्मृति चिह्न भेंट किया गया । सभी प्राध्यापक अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे । प्रदेश के अन्य महाविद्यालयों के प्राचार्यों ने भी अपनी गरिमामयी उपस्थिति दी। छात्रसंघ अध्यक्षा अलीशा परवीन ,पूरा छात्रसंघ व सभी छात्राओं ने गर्मजोशी से अतिथियों का स्वागत किया व कार्यक्रम में उपस्थित रहीं।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker