LATEST NEWSNATIONAL

इस बेघर भिखारी की कमाई के आगे बड़े-बड़े प्रोफेशनल हैं फेल, महीने की इनकम कर देगी दंग

क्या आपने कभी किसी ऐसे व्यक्ति के बारे में सुना है जिसके पास 5 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति हो और वह सड़कों पर मारा-मारा फिर रहा हो? 21वीं सदी में सब कुछ संभव है. लंदन में एक बेघर व्यक्ति कम से कम 1,300 पौंड, लगभग 1.27 लाख रुपये हर महीने किराए से कमाता है. डॉम नाम के इस भिखारी ने एक साक्षात्कार के दौरान अपनी संपत्ति के बारे में चौंकाने वाला खुलासा किया है. वह हेरोइन और अन्य नशे की लत के कारण सड़कों पर रहता है. आइये आपको बताते हैं डॉम के बारे में..

कम उम्र में ही हेरोइन की लत

डॉम ने बताया कि कम उम्र में ही उसे हेरोइन की लत लग गई थी. नशे की अति के बाद उसने सात साल तक खुद पर संयम बनाए रखा. लेकिन एक बार फिर वह नशीले पदार्थों की ओर खिंचा चला आया. LADbible के अनुसार डॉम एक मध्यम वर्ग के घर में पला-बढ़ा. उसके एथलेटिक कौशल के कारण स्कूली समय में उसे छात्रवृत्ति भी मिलती थी. लेकिन जैसे-जैसे वह किशोरावस्था में आया उसका जीवन बदलने लगा.

13 साल की उम्र में मारिजुआना..

डॉम ने कहा कि मैं पागल हो गया हूं … शराब, ड्रग्स और अन्य नशों के बीच ही मेरी दुनिया है. मैंने 13 साल की उम्र में मारिजुआना का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया था और धीरे-धीरे लगभग हर नशे की तरफ खिंचता चला गया. उसने आगे कहा, “जब मैं लगभग 17 या 18 साल का था तब मैंने हेरोइन का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया था. मैं तुरंत ही इसका आदी हो गया था.” रिहैब में जाने के बाद सात साल तक संयम बनाए रखने में सक्षम था.

सारी कमाई नशे में बर्बाद

डॉम ने कहा कि घर के किराये से होने वाली सारी कमाई का इस्तेमाल वह ड्रग्स खरीदने में करता है. वह लंदन की सड़कों पर भीख मांगता है और प्रतिदिन 200 से 300 पाउंड कमाता है. उसने कहा कि उसे जो भी पैसा मिलता है, उसका लगभग सारा हिस्सा मैं ड्रग्स पर खर्च कर देता है. उसने कहा, “मैं स्टेशन के बाहर सोता हूं.”

छोड़ना चाहता है नशे की लत

उसने दावा किया कि जब उसके पहले बेटे का जन्म हुआ, तो उसके पिता ने घर खरीदा ताकि बच्चे के पास रहने के लिए जगह हो. उसके दोस्त और परिवार अब उससे दूरी बना चुके हैं. उसे चिंता है कि अगर वह अपना घर बेचता है, तो उसकी लत उसे खतरे में डाल सकती है, जिसकी कीमत £ 530,000 (लगभग 5.19 करोड़ रुपये) है. वह नशीले पदार्थों पर निर्भर नहीं रहना चाहता और नियमित जीवन जीना चाहता है.

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker