CrimeLATEST NEWSNATIONAL

एक और लड़की के साथ हुई श्रद्धा जैसी वारदात, शादीशुदा प्रेमी ने प्रेमिका के टुकड़े कर नाले में बहाए पार्ट्स

दिल्ली में हुए श्रद्धा वाकर मर्डर केस में एक बाद एक कई चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं. दिल्ली में श्रद्धा के लिव इन पार्टनर आफ़ताब ने श्रद्धा के बेरहमी से 35 टुकड़े कर दिए जिसके बाद पूरा देश इस हैवानियत से बेहद आक्रोश में है और आरोपी की गिरफ्तारी की मांग कर रहा है. वहीं अब बांग्लादेश में ठीक ऐसी ही एक घटना सामने आई हैं जहां एक शादीशुदा प्रेमी ने अपनी प्रेमिकाकी लाश के टुकड़े कर दिए और उसे नाले में बहा दिया.

जानकारी के मुताबिक, अबू बकर नाम के एक शख्स ने अपनी हिंदू प्रेमिका की बेरहमी से हत्या कर दी. आरोपी ने प्रेमिका का सिर काट दिया फिर उसके शव के टुकड़े किए और बॉडी पार्ट्स को नाले में बहा दिया. रैपिड एक्शन फोर्स ने फिलहाल आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.

रिपोर्ट के मुताबिक, आरोपी का नाम अबु बकर है और मारी गई महिला का नाम कविता रानी बताया जा रहा है. आरोपी ने पुलिस को बताया है कि दोनों के बीच काफी दिनों से विवाद चल रहा था. इसी बात से तंग आकर उसने घटना को अंजाम दिया.

पहले से शादीशुदा बताया जा रहा है आरोपी

ख़बरों के मुताबिक, पुलिस को प्रारंभिक जांच में पता चला है कि कविता को अबु के शादीशुदा होने की बात पता चल गई थी. इस वजह से दोनों के बीच विवाद हुआ था. स्थानीय पुलिस का कहना है कि अबु और कविता रिलेशनशिप में थे. कविता को अबू ने बताया था कि वो सिंगल है. लेकिन कुछ वक्त बाद उसे पता चला कि अबू उसे धोखा दे रहा है और पहले से शादीशुदा है. इसके बाद दोनों के बीच अक्सर लड़ाई होने लगी.

आरोपी ने बॉडी पार्ट्स को नाले में बहाया
बताया जा रहा है कि राज खुलने के बाद अबू ने कविता को रास्ते से हटाने का प्लान बनाया. पहले उसने कविता की हत्या की और फिर उसके शरीर के 3 टुकड़े किए. बॉडी पार्ट्स को उसने प्लास्टिक बैग में रखा और बाद में नाले में बहा दिया.

दिल्ली में श्रद्धा के 35 टुकड़े कर फ्रिज में रखी लाश
दिल्ली की घटना से पूरा भारत दहला हुआ है. आफताब नाम के आरोपी ने अपनी लिव इन पार्टनर की बेरहमी से हत्या की और फिर उसके शव के 35 टुकड़े कर दिए. वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी ने उसकी बॉडी के टुकड़े को फ्रिज में रखा और उसके शव को बीच-बीच में महरौली के जंगल में फेंकता रहा.

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!