CrimeLATEST NEWSNATIONAL

दरिंदों ने की सारी हदे पार! गर्भवती महिला को बनाया हवस का शिकार और फिर हाथ में भ्रूण लेकर …

उत्तर प्रदेश। बरेली में एक शर्मसार कर देने वाली घटना सामने आई है. एक गर्भवती महिला से गैंगरेप किया गया जिसके बाद गर्भ में ही बच्चे की मौत हो गई. रेप पीड़िता की सास हाथ में भ्रूण लेकर न्याय की गुहार लगाने एसएसपी दफ्तर पहुंची तो वहां हड़कंप मच गया. इस घटना को देखकर लोग सदमे में हैं. दरिंदों ने 3 महीने की गर्भवती महिला के साथ बलात्कार किया जिस वजह से उसका गर्भपात हो गया. घटना उस वक्त हुई जब महिला किसी काम से खेत में गई थी. उसी दौरान वहां घात लगाए बैठे गांव के ही दबंगों ने महिला के साथ दुष्कर्म किया. आरोपी रेप के बाद महिला को वहीं छोड़कर फरार हो गए. काफी देर तक जब पीड़ित महिला घर नहीं पहुंची तो परिजन खेत में देखने पहुंचे जहां वो गंभीर हालत में मिली. तुरंत परिजन महिला को निजी अस्पताल में ले गए जहां बच्चे की जान बचाने के लिए डॉक्टरों ने हर संभव कोशिश की लेकिन शिशु को नहीं बचाया जा सका. डॉक्टरों ने परिजनों को बताया कि दुष्कर्म के दौरान बच्चा महिला के गर्भ में ही मर गया. महिला के परिजन न्याय के लिए अफसरों के चक्कर काट रहे हैं. पीड़िता की सास आरोपियों को सजा दिलाने के लिए प्लास्टिक के जार में भ्रूण को लेकर एसएसपी ऑफिस पहुंची जिसे देखकर हर कोई हैरान रह गया. महिला के हाथ में भ्रूण देखकर एसएसपी दफ्तर में मौजूद अफसरों के पैरों तले जमीन खिसक गई. मामले को संज्ञान लेते एसपी देहात राजकुमार अग्रवाल ने जांच के आदेश दे दिए हैं. उन्होंने बताया कि महिला का बयान लिए जा रहा है. जल्द ही जांच कर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. गैंगरेप पीड़िता की सास ने कहा, ‘मैं कई दिनों से शिकायत कर रही हूं. मेरी बहू के साथ तीन लोगों ने गैंगरेप किया था. 3 महीने का बच्चा पेट में था, मुंह बंद कर बहू के साथ दुष्कर्म किया गया जिससे वह बेहोश हो गई. महिला ने कहा इस प्लास्टिक के बैग में बच्चे का शव है.’ गैंगरेप की इस शर्मनाक घटना को लेकर बिशारतगंज के युवक ने थाने में केस दर्ज कराया है. शिकायतकर्ता ने कहा कि उसकी पत्नी के साथ गांव के ही कुछ लोगों ने बलात्कार किया जिससे उसका गर्भपात हो गया. इस घटना को लेकर बिशारतगंज थाने में धारा 376d, 315 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है. वहीं इस घटना को लेकर बरेली के एसपी (ग्रामीण) राजकुमार अग्रवाल ने बताया कि पीड़ित और आरोपी पक्ष के बीच घटना वाले दिन खेत में उड़द तोड़ने को लेकर विवाद हुआ था. इस बात पर गांव में बैठक कर समझौता भी कर लिया गया था. इसका लिखित समझौतानामा भी मिला है. उन्होंने कहा, ‘अब घटना के बाद महिला का मेडिकल परीक्षण कराया गया है. पीड़िता का बयान दर्ज किया जा रहा है. जांच में जो भी सामने आएगा उसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी.

Related Articles

Back to top button