CrimeLATEST NEWSNATIONAL

चलती बस में 25 साल की महिला से गैंगरेप, बाकियों को पर्दे फाड़कर बांध दिया, फिर बस पलटाकर फरार

नई दिल्ली। चलती बस में एक 25 साल की महिला पैसेंजर से सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है। इस दौरान आरोपियों ने बस में सवार सभी अन्य यात्रियों को बस के पर्दे से बांध दिया। इतना ही नहीं आरोपियों ने वारदात को अंजाम देने के बाद बस को सड़क किनारे पलटा दिया और वहां से भाग गए।

मिली जानकारी के अनुसार ये पूरी घटना बांग्लादेश की राजधानी ढाका की है। यहां ढाका डिविजन की एक बड़ी सिटी तांगैल में चटोग्राम जाने वाली बस में आधी रात 25 वर्षीय पैसेंजर से रेप और फिर लूटपाथ का चौंकाने वाला मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि पुलिस ने बदमाशों के सरगना को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी को 5 दिन की रिमांड पर भेजा गया है।

एक रिपोर्ट के मुताबिक ये घटना 2-3 अगस्त की है। तांगैल एसपी सरकार एमडी कैसर के अनुसार, 24 यात्रियों के साथ ‘ईगल परिबहन’ की बस मंगलवार देर रात कुश्तिया से चट्टोग्राम जा रही थी, जब इस वारदात को अंजाम दिया गया। बताया गया कि सिराजगंज जिले के एक होटल में चाय-नाश्ता के लिए बस रुकी थी। यहां से जब बस निकली, तो बस में 7 लुटेरे सवार हो चुके थे। आगे जाकर कुछ देर बाद 4 और बदमाश बस में चढ़ गए।

क्या है पूरा मामला?
मंगलवार की देर रात राजा अपने साथियों के साथ चटगांव जाने वाली ईगल परिवहन की बस में चढ़ गया और कब्जा कर लिया। उन्होंने बस के यात्रियों से पैसे, मोबाइल फोन और अन्य कीमती सामान छीन लिए। उन्होंने बस की एक महिला यात्री के साथ भी बलात्कार किया और उसे सड़क किनारे खाई में फेंक दिया। इसके बाद बुधवार तड़के करीब 3 बजे आरोपियों ने मधुपुर में रोक्तिपारा जम्मे मस्जिद के सामने बस को रेत के ढेर में पलटा दिया भाग गए।

एक यात्री ने बताई पूरी कहानी – अली के अनुसार- “इससे पहले कि हम कुछ समझ पाते, उनमें से 10 लोग यात्रियों की सीटों के बगल में खड़े हो गए। उनमें से कुछ ने पुरुषों को बांधने के लिए बस के पर्दों के टुकड़े किए। महिलाओं में से एक बंधी हुई थी, जबकि अन्य खुली थीं। उन्होंने सभी खिड़कियां बंद कर दीं और रोशनी कम कर दी, और यात्रियों से पैसे, मोबाइल फोन और आभूषण छीन लिए।”

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!