CrimeLATEST NEWSNATIONAL

दूसरे धर्म की लड़की से प्यार करने की मिली ऐसी सजा, जानकर कांप उठेगी रुह…

राजकोट: हैदराबाद में दूसरे धर्म की लड़की से शादी करने पर नागराजू की बेरहमी से पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी। मामला अभी भी शांत नहीं हुआ था कि अब गुजरात के राजकोट में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां एक 22 वर्षीय युवक की प्रेम कहानी का अंत भी निर्मम हत्या के साथ हुआ। सुमैया के भाई और परिवार के सदस्यों ने मिथुन ठाकुर को पीट-पीट कर मार डाला। सुमैया जब अपने प्रेमी को नहीं बचा पाई तो उसने अपने हाथ की नस काट ली। हालांकि, उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उसकी जान बच गई।

स्थानीय फैक्ट्री में काम करने वाले बिहार के मूल निवासी मिथुन ठाकुर और 18 साल की लड़की सुमैया कादिवार पिछले कुछ महीनों से रिलेशनशिप में थे। वे जंगलेश्वर मेन रोड स्थित राधा कृष्ण सोसाइटी में उसी मोहल्ले में रहते थे। इसी दौरान दोनों एक दूसरे के संपर्क में आ गए। उनका प्यार परवान चढ़ता गया और उन्होंने शादी करने का फैसला किया।
सोमवार को मिथुन ठाकुर ने सुबह करीब 10 बजे सुमैया को उसके मोबाइल फोन पर कॉल किया लेकिन उसके भाई साकिर ने कॉल का जवाब दिया। उसने ठाकुर को गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी और दोनों के बीच तीखी बहस छिड़ गई। साकिर उसे सुमैया से दूर रहने की धमकी दे रहा था।

साकिर और तीन अज्ञात व्यक्ति मिथुन के घर गए और उसकी बेरहमी से पिटाई की। पड़ोसियों में से एक ने उसे घर में बेहोश पड़ा देखा और उसे राजकोट सिविल अस्पताल ले गया, जहां से उसे गंभीर चोटों और ब्रेन हेमरेज के साथ अहमदाबाद रेफर कर दिया गया। ठाकुर ने बुधवार को अहमदाबाद के सिविल अस्पताल में दम तोड़ दिया।
बुधवार को सुमैया को जब उसकी मौत की जानकारी हुई तो उसने भी कलाई काट कर आत्महत्या करने का प्रयास किया। बुधवार को सुमैया को अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां पूरी घटना का पता चला।

सुमैया के माता-पिता तलाकशुदा हैं और उसकी मां भी एक निजी कंपनी में मजदूरी करती है। मिथुन ठाकुर और उसके पिता बिपिन राजकोट में रहते थे और एक कारखाने में काम करते थे। भक्तिनगर पुलिस स्टेशन के निरीक्षक एलएल चावड़ा ने कहा, “हमने पीड़िता के पिता की शिकायत पर साकिर और उसके एक साथी को गिरफ्तार किया है।”

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!