BUSSINESSMADHYA PRADESHNATIONAL

पन्ना की हीरा खदानों से निकले कच्चे हीरों की ई-नीलामी में चमकी सरकारी कंपनी एनएमडीसी

नई दिल्ली,10 मार्च। देश में लौह अयस्क का उत्पादन करने वाले केंद्रीय उपक्रम नेशनल मिनिरल डेवलपमेंट कार्पोरेशन (एनडीएमसी) द्वारा मध्य प्रदेश राज्य में पन्ना की हीरा खदानों से निकले कच्चे हीरों की ई-नीलामी में सूरत, मुंबई और पन्ना के हीरा व्यापारियों ने जम कर बोलियां लगायीं।
इस्पात मंत्रालय की गुरुवार को जारी एक विज्ञप्ति के अनुसार दिसंबर 2020 से पहले उत्पादित लगभग 8337 कैरेट के कच्चे हीरे नीलामी में पेश किए गए थे और उनमें लगभग शत-प्रतिशत के लिए स्वीकार्य बोलियां मिलीं।
पन्ना में मझगवां एनएमडीसी की हीरा खनन परियोजना देश की एकमात्र यंत्रीकृत हीरे की खान है। वहां अयस्क प्रसंस्करण संयंत्र की सुविधाएं हैं जिनमें हीरे को चुनने के लिए हेवी मीडिया सेपरेशन यूनिट और एक्स-रे सॉर्टर प्रणाली शामिल है।
एनएमडीसी के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक सुमित देब ने कहा, “हमें हाल ही में सूरत में आयोजित हीरे की नीलामी में जबरदस्त प्रतिक्रिया मिली, जहां मात्रा के हिसाब से लगभग 100 प्रतिशत के लिए व्यापारियों से बोलियां प्राप्त हुईं।” देश में हीरे के कुल संसाधनों में 90 प्रतिशत हिस्सा मध्य प्रदेश का है। उन्होंने कहा कि 84,000 कैरेट प्रति वर्ष की उत्पादन क्षमता के साथ राज्य में एनएमडीसी की उपस्थिति देश की बढ़ती अर्थव्यवस्था के प्रति उसकी प्रतिबद्धता को दर्शाती है।

Tags

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!