CG NEWSCorona UpdateCORONA UPDATE IN CG

कोरोना विस्फोट: इस महीने मौत का सबसे बड़ा आंकड़ा, 24 घंटे में 7 की मौत, 6 हजार 15 नए मरीज, रायपुर में 2022 केस

छत्तीसगढ़ में पिछले 24 घंटों में कोरोना से 7 लोगों की मौत हुई है। इस महीने मौत का ये सबसे बड़ा आंकड़ा है। प्रदेश में 6015 नए पॉजिटिव मरीज मिले हैं, तो केवल रायपुर में ही 2022 नए संक्रमित मरीज मिले हैं। गुरुवार को विधायक, अफसर और कर्मचारियों के बाद बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी भी चपेट में आ गए हैं। रायपुर में 17 पुलिसकर्मियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इनमें 1 DSP, 1 ASI, 4 सब इंस्पेक्टर और 11 कांस्टेबल शामिल हैं। यह सभी SP ऑफिस, मौदहापारा, डीडी नगर थाना, कोतवाली थाना, ट्रैफिक और पुलिस लाइन में तैनात थे।

दूसरी ओर कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए बलौदाबाजार कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने 13 से 19 जनवरी तक 8वीं कक्षा तक के स्कूल बंद करने के आदेश दिए हैं। गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिले के सभी स्कूल बंद कर दिए गए हैं। कलेक्टर ने सभी हॉस्टल भी बंद करने का आदेश जारी किया। वहीं जशपुर के पत्थलगांव में अब दुकानें सुबह 9 से शाम 5 बजे तक ही खुलेंगी। हालांकि जरूरी सेवाओं को इसमें छूट दी गई है।

भिलाई के वैशाली नगर से भाजपा विधायक संक्रमित
भिलाई के वैशाली नगर से भाजपा विधायक विद्यारतन भसीन कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। सर्दी-खांसी के लक्षण के चलते उन्होंने एक दिन पहले ही बुधवार को सैंपल जांच के लिए दिया था। इसके बाद देर रात उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इससे पहले 10 जनवरी को पति-पत्नी ने बूस्टर डोज भी लगवाई थी। हालांकि उनकी पत्नी की रिपोर्ट निगेटिव है।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से देर रात जारी बुलेटिन के मुताबिक बुधवार को प्रदेश भर में 59 हजार 218 सैंपल इकट्‌ठा किए गए। इस बीच 5 हजार 476 नए मरीजों की पुष्टि हुई। विभाग ने रात 8 बजे तक केवल रायपुर में ही 4 मरीजों की मौत की खबर दी। इनमें से तीन को कोरोना के अलावा दूसरी गंभीर स्वास्थ्य समस्याएं थीं। एक केस विशुद्ध कोरोना की वजह से मौत का है।

तीसरी लहर के दौरान यह लगातार तीसरा दिन है जब चार मरीजों की मौत हुई हो। यहां मंगलवार 11 जनवरी को भी चार मरीजों की मौत हुई थी, जिनमें दो रायपुर और एक-एक बिलासपुर और रायगढ़ के थे। रायपुर में एक डेढ़ साल के बच्चे की मौत हुई थी। 10 जनवरी को चार मरीजों की मौत हुई थी। इनमें दो की मौत केवल कोरोना संक्रमण की वजह से बताई गई। 9 जनवरी को प्रदेश में दो मरीजों की जान गई थी, वहीं 8 जनवरी को 4 मरीजों की जान गई। कोरोना संक्रमण की शुरुआत से अब तक प्रदेश के 10 लाख 38 हजार 60 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें से 13 हजार 627 लोगों की इस महामारी में जान चली गई।

धमतरी के सभी आंगनबाड़ी केंद्र बंद

कोरोना के बढ़ते संक्रमण के चलते कलेक्टर ने धमतरी के सभी आंगनबाड़ी केंद्र बंद करने का फैसला लिया है। इस दौरान गर्भवती महिलाओं और तीन से 6 साल तक के बच्चों को गर्म खाने के पैकेट घर भेजे जाएंगे।

रायपुर-दुर्ग में हालात बेकाबू
तीसरी लहर के तीसरे सप्ताह में रायपुर और दुर्ग जिलों में हालात बेकाबू हो गए हैं। बुधवार को रायपुर में ही एक हजार 2022 नए मरीज मिले। 188 लोग ठीक हुए और चार की मौत हुई। यहां अब मरीजों की संख्या बढ़कर 8 हजार 859 हो गई है। इस समय रायपुर का संक्रमण दर 21.09% तक पहुंच गया है। दुर्ग-भिलाई में भी बुधवार को 800 नए मरीज मिल गए। यहां अब 3 हजार 714 मरीज सक्रिय हैं।

साइंस कॉलेज के 14 प्रोफेसर समेत 20 स्टाफ पॉजिटिव

दुर्ग में तीसरी लहर में भी कोरोना बेकाबू हो चला है। बुधवार को आई रिपोर्ट में साइंस कॉलेज के 14 प्रोफेसर समेत यहां के 20 स्टाफ की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसके अलावा सीआईएसएफ तीसरी बटालियन एवं सीआईएसएफ आरटीसी से 11 जवान संक्रमित मिले हैं। बेथनी कॉलेज ऑफ नर्सिंग में भी 5 छात्राओं के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई है।

इन जिलों में भी संक्रमण चिंताजनक
रायपुर, दुर्ग के अलावा 6 और जिलों में कोरोना संक्रमण की दर 5% की सीमा रेखा के पार चल रही है। इसमें शामिल बिलासपुर में बुधवार को 418 नए मरीज मिले। रायगढ़ में 348, कोरबा में 403, जांजगीर-चांपा में 321, जशपुर 279 और सरगुजा में 221 नए मरीज मिल गए हैं। पिछले एक सप्ताह से इन जिलों में हालात तेजी से बिगड़े हैं। इस समय प्रदेश के अधिकांश जिलों में संक्रमण दर बढ़ रहा है।

विधानसभा में भाजपा विधायक दल के नेता ने कोरोना से बच्चे की मौत को भी चिंताजनक बताया है।

भाजपा ने सरकार पर आंकड़ा छिपाने का आरोप लगाया
नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने राज्य सरकार पर कोरोना के आंकड़े छिपाने का आरोप लगाया है। कौशिक ने कहा, कोविड के खिलाफ जारी लड़ाई को लेकर प्रदेश सरकार की क्या तैयारियां है, वह स्पष्ट ही नहीं है। कोविड के बढ़ते आंकड़ों के बीच प्रदेश सरकार अपनी नाकामियों को छिपाने के लिए केवल पर्दा डालने का काम कर रही है। हर दिन प्रदेश में करीब 45 हजार के आसपास कोविड जांच हो रहा है। लेकिन इसकी रिपोर्ट समय पर नहीं मिल रही है। इससे प्रभावित व्यक्ति को उपचार के संबंध में कोई जानकारी नहीं मिल रही है और बीमारी तेजी से फैल रही है।

Tags
Back to top button