Chhattisgarh

घूस लेते हुए कोरबा आरटीओ बाबू की देंखे तस्वीरें,पेपर इधर से उधर करने के एवज में रोज वसूले जा रहें है हजारो रुपये….

रिपोर्ट : जितेंद्र साहू

कोरबा – जिले के आरटीओ कार्यालय में जमकर भ्र्ष्टाचार हो रहा है, यहां पदस्थ बाबू द्वारा कागजो में साइन व आगे बढाने के एवज में खुलेआम पैसो की मांग की जा रही है। एक ओर जहां कार्यालय का सम्पूर्ण कार्य ऑनलाइन हो गया है वहीं बाबू द्वारा पैसो का लेनदेन उनकी घूसखोरी को बयान कर रहा है। विश्वसनीय सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आरटीओ कार्यालय में पदस्थ सदानन्द जांगडे नामक बाबू अपने काम के एवज में मोटे पैसो की मांग करता है,ऐसा नही है कि यह मांग पहली बार है बल्कि हर बार हर पेपर पर बड़ी बेबाकी के साथ खुलेआम मांग की जाती है,साथ ही किसी के द्वारा पैसो के लेनदेन को गलत कहने पर कोई मेरा कुछ नही बिगाड़ सकता वाली बातें सुनने को मिलती है,सदानन्द बाबू का कहना है कि मैं यह पैसा ऊपर तक देता हूं,सबको पैसा जाता है।

कोरबा आरटीओ का भ्र्ष्टाचार से पुराना है नाता..

कोरबा आरटीओ विभाग में भ्र्ष्टाचार अपने चरम सीमा पर है, एक समय था जब आरटीओ कार्यालय में बाहरी एजेंटो के द्वारा लायसेंस से लेकर रजिस्ट्रेशन तक के लिए वसूली की जाती थी अब बाबु एजेंटो के साथ साथ स्वयं वसूली पर उतर आए हैं। जिससे ऐसा प्रतीत होता है कि शासन से अधिक इन बाबुओं द्वारा लगातार कमाई की जा रही है।

क्या ऊपर तक पैसे पंहुचाने बाबू को दिया गया है 3 से 4 महत्वपूर्ण प्रभार…

आरटीओ कार्यालय में पदस्थ इस बाबू को आरटीओ सम्बंधित 3 से 4 प्रभार की जिम्मेदारी देकर आरटीओ कार्यालय में कार्य लिया जा रहा है,ऐसे में खुलेआम पैसे का लेनदेन करना बड़े अधिकारियों की मिलीभगत की ओर भी इशारा करता है,सूत्र बताते हैं कि सदानन्द जांगडे बीते कई वर्षों से इस तरह के भ्रष्टाचार में संलिप्त हैं,और इस भ्र्ष्टाचार की काली कमाई से अनेको बेनामी ट्रेलर का स्वयं भी मलीक बन गया है।

इस बाबू द्वारा पैसे लेनेदन की वायरल तस्वीर के बाद अब यह देखना लाजमी होगा कि ऐसे खुलेआम कार्यालय में बैठकर पैसे का लेनदेन करने वाले बाबू पर जिला प्रसाशन और नवपदस्थ आरटीओ अधिकारी श्री कुर्रे क्या कार्यवाही करतें हैं ।

Related Articles

Back to top button