Top-NewsWORLD NEWS

मोस्ट पॉवरफुल पासपोर्ट 2022 की सूची में भारत की रैंकिंग में 7 पायदान का सुधार; जापान और जर्मनी के पासपोर्ट फिर टॉपर, पाकिस्तानी पासपोर्ट नार्थ कोरिया से भी बदतर

पासपोर्ट रैंकिंग जारी करने वाले ऑर्गनाइजेशन हेनली एंड पार्टनर्स ने 2022 के लिए हेनली पासपोर्ट इंडेक्स जारी किया है। इसमें एक बार फिर जापान और सिंगापुर के पासपोर्ट टॉपर हैं। इन देशों के नागरिक वीजा के बिना ही 192 देशों में ट्रैवल कर सकते हैं।

इंडेक्स में भारत की रैंकिंग में 7 पायदान का सुधार हुआ है। 2021 में भारतीय पासपोर्ट 90वें पायदान पर था। इस बार यह 83वें पायदान पर है। भारतीय नागरिक 60 देशों में वीजा फ्री ट्रैवल कर सकते हैं। वहीं, पाकिस्तान के पासपोर्ट की रैंकिग उत्तर कोरिया, सोमालिया और युद्ध से जूझ रहे यमन से भी बदतर है।

रैंकिग में उत्तर कोरिया का पासपोर्ट 104, सोमालिया का 106 और यमन का 107वें पायदान पर है। जबकि, पाकिस्तानी पासपोर्ट की रैंकिंग 108वीं हैं। पाकिस्तानी नागरिक सिर्फ 31 देशों में ही वीजा फ्री ट्रैवल कर सकते हैं। पाकिस्तान के बाद सीरिया 109, इराक 110 और अफगानिस्तान 111वें नंबर पर है।

पहले जानिए: कैसे तय होती है रैंकिंग
हर साल की शुरुआत में यह रैंकिंग जारी की जाती है। हेनली पासपोर्ट वीजा इंडेक्स की वेबसाइट के मुताबिक- पूरे साल रियलटाइम डेटा अपडेट किया जाता है। वीजा पॉलिसी में बदलाव भी ध्यान में रखे जाते हैं। डेटा इंटरनेशनल ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन (IATA) से लिया जाता है।

रैंकिंग इस आधार पर तय की जाती है कि किसी देश का पासपोर्ट होल्डर कितने दूसरे देशों में बिना पूर्व वीजा (prior visa) हासिल किए यात्रा कर सकता है। इसके लिए उसे पहले से वीजा लेने की जरूरत नहीं होगी।

भारत के नागरिक बिना पूर्व पूर्व वीजा के 60 देशों की यात्रा कर सकते हैं। पिछले साल यह संख्या 58 थी। इस साल ओमान और आर्मेनिया ने भारतीयों को बिना पूर्व वीजा के यात्रा की मंजूरी दी है।

Tags

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!