CG NEWSChhattisgarh

किसानों को स्वयं के बारदाने में धान बेचने के लिए प्रोत्साहित करें – कमिश्नर डॉ. अलंग.

आवक कम होने तक मांग के अनुसार सभी किसानों का टोकन जारी किया जाए.

जांजगीर-चांपा। बिलासपुर संभाग के कमिश्नर डॉ. संजय अलंग ने आज अकलतरा तहसील के तिलई उपार्जन केंद्र का आकस्मिक निरीक्षण किया। कमिश्नर ने वहां धान बेचने पहुंचे किसानों से चर्चा की और किसानों द्वारा लाए गए धान की नमी की जांच इलेक्ट्रॉनिक मशीन से करवाई और संतोष व्यक्त किया।

कमिश्नर ने उपार्जन केंद्र प्रभारी से कहा कि किसानों को स्वयं के बारदानें में धान बेचने के लिए प्रोत्साहित करें। राज्य सरकार ने भी पुराने बारदानें की कीमत 18 रूपये बढ़ाकर 25 रूपये कर दी है। कमिश्नर ने कहा कि स्वयं के बारदानें में धान लाने वाले किसानों के खाते में भी इसकी एंट्री की जाए। ताकि समय पर इसका भुगतान किया जा सके।

कमिश्नर ने कहा कि अभी उपार्जन केन्द्रों में धान की आवक कम है, अतः जितने भी किसान आए सभी का टोकन काटा जाए। जब आवक बढ़ेगा तब बड़े व छोटे किसानों का 30-70 के अनुपात में टोकन काटा जाए। उन्होंने धान की आवक और अधिक बढ़ने पर टोकन काटने के लिए ग्रामवार टोकन जारी करने व्यवस्था करने संबंधितों को निर्देश दिए।

किसान मनीराम ने कहा धान बेचने मिलरहा सहयोग –

ग्राम तिलई के किसान मनीराम ने कमिश्नर से चर्चा के दौरान बताया कि टोकन कटवाने और धान तौलाई में सभी का सकारात्मक सहयोग मिल रहा है। समर्थन मूल्य पर धान खरीदी व्यवस्था से वे संतुष्ट है। उन्होंने कहा कि दो दिन पहले उनके द्वारा टोकन कटवाये गए थे। आज वह 180 कट्टा धान लेकर तौलाई के लिए आये हैं। उपार्जन केन्द्र में किसानों के लिए पेयजल, छाया आदि की व्यवस्था की गई है। उपार्जन केन्द्र में बारदाना भी आसानी से उपलब्ध हो रहा है। निरीक्षण के दौरान कलेक्टर जितेंद्र कुमार शुक्ला, जिला पंचायत सीईओ श्री गजेंद्र सिंह ठाकुर, डिप्टी कमिश्नर श्रीमती मिश्रा, सहकारी बैंक के जिला नोडल अधिकारी, खाद्य अधिकारी, जिला विपणन अधिकारी सहित धान खरीदी से संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button