Aajtak ki khabarChhattisgarhKORBA LATEST NEWSKorba Nagar NigamKORBA POLICEKUSMUNDA NEWSKusmunda policeKUSMUNDA UPDATESSECL NEWS

पौने तीन करोड़ का टेंडर बावजूद उसके गड्ढे और धूल झेल रहे हैं लोग, क्या अब नही होगा कोरबा – कुसमुण्डा मार्ग का मरम्मत….?

कोरबा – जर्जर सड़क को लेकर सवाल कई हैं और इस सवाल का जवाब बस एक मरम्मत है !
सबसे बड़ी बात कि उपाय के लिए जरूरी खर्च का वहन भी क्षेत्र के जिम्मेदार प्रबंधन कर रही है बावजूद इसके प्रशासन गंभीर नजर नहीं आ रही है, जिस वजह से लोग हलकान हैं परेशान हैं दुखी हैं। हम बात कर रहे हैं कोरबा कुसमुंडा मार्ग की, बरसात में जो हालत थे पूरा जिला जानता है कितनी मुश्किलों से लोग आवागमन करें आज बरसात के बाद थोड़ी सी राहत है परंतु बड़ी राहत तब मिलती जब इस सड़क का मरम्मत हो जाता इस सड़क की मरम्मत के लिए एसईसीएल ने दो करोड़ 76 लाख रुपए का टेंडर जारी किया ठेकेदार के द्वारा दो करोड़ 19 लाख रुपए में टेंडर को लिया गया बीते माह बरसात का हवाला दिया गया की गिरते पानी में सड़क नहीं बन पाएगी, डामरीकरण नहीं हो पाएगा । आज 2 माह हो गए बरसात को खत्म हुए पर अब भारीवाहनो के नो एंट्री का हवाला दिया जा रहा है प्रबंधन ने प्रशासन को लेटर लिख दिया है कि नो एंट्री लगाया जाए ताकि सड़क की मरम्मत हो सके प्रशासन कहीं ना कहीं इस सड़क पर लोगों को हो रही परेशानी को अनदेखा कर रहा है रोजमर्रा की चीजें हैं लोग काम के लिए जा रहे हैं स्कूल जा रहे हैं बच्चे हलकान हैं लोग परेशान हैं और जिनके पास समाधान है वह जाने किस दुनिया में खोए हुए हैं । कोरबा कुसमुंडा मार्ग पर प्रतिदिन हजारों की संख्या में छोटे और बड़े वाहन कोरबा से आना-जाना करते हैं, स्कूली बच्चों से लेकर कामकाजी लोग दुपहिया चार पहिया वाहनों में आवागमन करते हैं सड़क के बड़े-बड़े गड्ढे धूल डस्ट से रोज दो-चार हो रहे हैं । भारी वाहनों की भी इस सड़क पर कमर टूट चुकी है, हर दिन कहीं ना कहीं कोई भी ट्रक ब्रेकडाउन स्थिति में आपको इस मार्ग पर देखने को मिल जाएगी । इस सड़क के मरम्मत के लिए अनेको आंदोलन हुए हैं तब जाकर एसईसीएल प्रबंधन द्वारा मरम्मत के लिए करोड़ों खर्च किए जा रहे हैं अब जब टेंडर हो चुका है काम शुरू हो चुका है फिर क्यों यह सवाल सभी के जेहन में है कि सड़क मरम्मत के कार्य में देरी क्यों..? कौन ध्यान देगा किसकी जिम्मेदारी है जो प्रशासनिक कुर्सियों में बैठे हैं उनकी या आम आदमी की जवाबदारी किससे सवाल करें किस से जवाब मांगे..? क्या लोग अपने दैनिक कार्यों झोड़कर सड़को पर बैठें तब सड़क बनेगी,सुधरेगी…? या अब नही बनेगी सड़क…? जवाब तो अब प्रसाशन ही देगा….!

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!