National

जंगलों में आतंकियों के खिलाफ जारी ऑपरेशन का आज सातवां दिन.. दो जेसीओ समेत नौ जवान शहीद.. एक महिला उसके बेटे समेत 3 लोगों को लिया गया हिरासत में.

जम्मू। जम्मू संभाग के पुंछ और राजोरी के जंगलों में आतंकियों के खिलाफ जारी ऑपरेशन का आज सातवां दिन है। आतंकियों से मुठभेड़ में दो अलग-अलग स्थानों पर दो जेसीओ समेत नौ जवान शहीद हुए हैं। रविवार को वन क्षेत्र में चल रहे तलाशी अभियान के दौरान एक महिला उसके बेटे समेत तीन लोगों को हिरासत में लिया गया है। सभी से पूछताछ की जा रही है।

अधिकारियों ने कहा कि भाटादूडिय़ां निवासी 45 वर्षीय महिला और उसके बेटे के साथ एक व्यक्ति को आतंकवादियों को रसद समर्थन देने के संदेह में पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है। इस बात की जांच की जा रही है कि तीनों ने स्वेच्छा से या बंदूक की नोक पर आतंकवादियों को भोजन और आश्रय प्रदान किया।

मेंढर से लेकर थानामंडी तक का पूरा वन क्षेत्र सख्त घेरे में
राजोरी-पुंछ रेंज के पुलिस उप महानिरीक्षक ने कहा कि पुंछ और राजोरी को जोडऩे वाले वन क्षेत्र में आतंकवादियों की मौजूदगी देखी गई थी। जिसके बाद उन्हें ट्रैक करने के लिए अभियान शुरू किया गया था। इस सप्ताह तीन बार आतंकवादियों से आमना-सामना हुआ। आतंकवादी छिपे हुए हैं और संयुक्त बल ऑपरेशन को अंजाम तक ले जाने में जुटे हैं। मेंढर से लेकर थानामंडी तक का पूरा वन क्षेत्र सख्त घेरे में है। बचने के प्रयास में एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाने वाले आतंकवादियों के खात्मे के लिए बड़े पैमाने पर तलाशी अभियान जारी है।

पैरा कमांडो ने संभाला मोर्चा
आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन की कमान अब पैरा कमांडो ने अपने हाथ में ले ली है। सेना की अन्य टुकडिय़ां अब बाहरी घेरे में हैं। जंगल के भीतर रुक-रुक कर फायरिंग हो रही है। मुठभेड़ के चलते राजोरी-पुंछ हाईवे पर यातायात बहाल नहीं हो पाया है। 14 अक्तूबर की शाम से हाईवे बंद है।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!