BASTAR NEWSCG NEWSCG-DPRChhattisgarh

जगदलपुर में नरवा योजना से आया बड़ा परिवर्तन , पढ़े पूरी खबर , जाने विस्तार से – –

छत्तीसगढ़ के जगदलपुर में राज्य शासन द्वारा प्रारंभ किये गए नरवा योजना से न केवल लघु नालो को पुनर्जीवन मिला है बल्कि कहीं कहीं तो ये नाले बारहमासी में तब्दील हो चुके है। जंगल में सूखते पेड़ो को बचाने और मिट्टी कटाव को रोकने के साथ -साथ भू जल स्तर में वृद्धि करने में भी नरवा योजना संजीवनी साबित हुई है।

छत्तीसगढ़ के बस्तर क्षेत्र के जगदलपुर में नरवा योजना के संचालन से बड़ा लाभ मिल रहा है। जिले के सातों विकासखण्ड के 40 नरवा का चयन किया गया था जिसकी कुल लम्बाई 624.65 कि.मी. है। इन नरवा के विकास से लगभग 11674 हेक्टेयर में सिंचाई सुविधा का विकास किया जा रहा है।

 

नरवा उपचार कैसे किया ?

जल संरक्षण के लिए जिले में नरवा के उपचार हेतु 172 ग्राम पंचायतों में इस वर्ष ‘ झोड़ी जतन ‘ प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। जिसमें 66 नरवा का चयन कर कार्य किया गया है। इसके तहत 5423 कार्यों की स्वीकृति दी गई। जिसमें 2504 कार्य पूर्ण कर लिया गया है।

साथ ही भू-जल संरक्षण कार्यों के तहत 211 नरवा को चिन्हांकित किया गया है। इन 211 नरवा पर 4106 कायों की ( 27.56 करोड रूपये ) को स्वीकृत मिली है। जिसमें से 2346 कार्य पूर्ण किया गया है। इस पर लगभग 9.76 करोड़ रुपए व्यय किया गया है।

नरवा के उपचार उपरांत नरवा के कैचमेंट तथा कमांड एरिया का औसत भू-जल स्तर में 8.4 प्रतिशत वृद्धि दर्ज की गयी है।

 

Tags

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!