CG NEWSChhattisgarh

जिला प्रशासन, ट्रांसपोर्टर, प्लांट प्रबंधन व गाड़ी मालिको के बीच दूसरी वार्ता भी विफल.. कल से हड़ताल.

रिपोर्ट : सत्यजीत घोष

रायगढ़ । जिला प्रशासन, ट्रांसपोर्टर, प्लांट प्रबंधन व गाड़ी मालिको के बीच बुधवार को हुई दूसरी वार्ता भी पूरी तरह विफल रही। अपनी मांगों पर अड़े गाड़ी मालिको ने कल से अपने वाहनों को खड़े करने का निर्णय बरकरार रखा है। जिला प्रशासन को दिए आवेदन में गाड़ी मालिको ने भाड़ा वृद्धि को लेकर अपनी मांग रखी थी और मांगे पूरी नही होने की स्थिति में उन्होंने आंदोलन की चेतावनी देते हुए आर्थिक नाकेबंदी की घोषणा की थी। मामले को जिला प्रशासन ने गम्भीरता से लिया और इस पर मध्यस्थता करते हुए प्लांट प्रबंधन, ट्रांस्पोर्ट्स व वाहन मालिकों के साथ बैठक कोई नतीजा निकालना चाहा परन्तु बुधवार की सुबह हुई बैठक में कोई सहमति नही बन पाई।

जिस पर जिला प्रशासन ने दोबारा शाम को फिर एक बैठक बुलाई पर आपको बताना चाहेंगे यह बैठक भी पूरी तरह से बेनतीजा निकली, और गाड़ी मालिक अपनी हड़ताल की मांग पर अड़े रहे। तो वही बात की जाए तो लोकल ट्रांसपोर्टरों की उन्होंने 10 दिनों तक के लिए ₹50 भाड़ा बढ़ाने की बात कही पर उस पर भी गाड़ी मालिक तैयार नहीं हुए, उनका साफ तौर पर कहना यह था कि जब तक पूरी तरह से भाड़े में वृद्धि नहीं की जाएगी तब तक वे अपनी मांगों पर अधिक रहेंगे और शांतिपूर्ण ढंग से अपना विरोध प्रदर्शन जारी रखेंगे।

जिला प्रशासन ने भी गाड़ी मालिकों से अपील की है कि सर्वप्रथम तो वह हड़ताल ना करें और अगर वे हड़ताल करते हैं तो सिर्फ और सिर्फ अपनी गाड़ियों को खड़ा करें किसी प्रकार से लौ एन ऑर्डर की स्थिति को खराब न करें अन्यथा उन पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

अब कल से गाड़ी मालिक अपनी गाड़ियों को खड़ा कर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर बैठ जाएंगे देखते हैं गाड़ी मालिकों की हड़ताल का प्लाट मालिकों पर क्या असर पड़ता है और उनके भाड़े में वृद्धि होती है कि नहीं।आज के इस वार्ता में गाड़ी मालिक संख्या में पहुंचे थे जिसके कारण सभा कक्ष छोटा पड़ने पर तत्काल वार्ता सृजन कक्ष में आयोजित की गई।

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!