ChhattisgarhKORBA LATEST NEWSKORBA LOCAL NEWS

कोरबा में शिक्षा एवं स्वास्थ्य सेवाओं के उन्नयन की रूपरेखा पर राजस्व मंत्री ने ली बैठक.. प्रशासनिक एवं स्वास्थ्य अधिकारियों सहित जन प्रतिनिधियों ने की भागीदारी.

कोरबा में शिक्षा एवं स्वास्थ्य सुविधाओं के उन्नयन एवं आधुनिकीकरण हेतु प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक में राजस्व एवं आपदा प्रबंधन मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने बैठक में उपस्थित सदस्यों को अवगत कराते हुए कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेश में शिक्षा एवं स्वास्थ्य सुविधाओं के उन्नयन एवं आधुनिकीकरण को विशेष महत्व देते हुए सभी संबंधितों को प्राथमिकता के आधार पर कार्य करने के स्पष्ट निर्देश दिए हैं।

राजस्व मंत्री द्वारा कोरबा शहरी क्षेत्र में विद्यालयों के संबंध में चाही गई जानकारी का जबाव देते हुए जिला शिक्षा अधिकारी सतीश पाण्डेय बताया कि कोरबा नगर पालिक निगम क्षेत्र अन्तर्गत कुल 6 हायर सेकेण्ड्री स्कूल, 8 हाई स्कूल और 29 मिडिल स्कूल और 46 प्रायमरी स्कूल हैं जिनमें से कटघोरा विकास खण्ड के अन्तर्गत आने वाले 8 विद्यालय भी शामिल हैं जिनके उन्नयन की रूपरेखा तैयार की गई है। कोरबा कलेक्टर किरण कौशल ने बताया कि सभी विद्यालयों का एक साथ आधुनिकीकरण कराया जाना संभव नहीं हो सकेगा। विद्यालयों के आधुनिकीकरण का कार्य तीन चरणों में सम्पन्न कराया जाना उचित होगा लेकिन इससे पहले औचित्य परीक्षण प्रतिवेदन आवश्यक होगा जिसके लिए एक टीम सर्वे करके अपना प्रतिवेदन देगी।

राजस्व मंत्री ने स्पष्ट निर्देश देते हुए कहा कि सर्वे और औचित्य परीक्षण प्रतिवेदन का कार्य तत्परता से निपटाए जाएं ताकि माननीय शिक्षा मंत्री के कोरबा प्रवास के समय प्रस्ताव पर स्वीकृति प्राप्त की जा सके। राजस्व मंत्री ने कहा कि प्रथम चरण के अन्तर्गत रामपुर, तानाखार, कटघोरा के चार-चार विद्यालयों सहित ग्रामीण क्षेत्र धनरास के भी दो विद्यालयों को इस परियोजना में शामिल किया जाए।

बैठक में राजस्व मंत्री द्वारा अशोक वाटिका को आक्सीजोन के रूप में विकसित करने के संबंध कार्य प्रगति की जानकारी चाहने पर नगर पालिक निगम कोरबा के अपर आयुक्त अशोक शर्मा ने जानकारी दी कि सर्वे का कार्य पूरा कर लिया गया है और डीपीआर तैयार किया जा रहा है जो कल तक प्राप्त हो जाएगा। डीपीआर प्राप्त हो जाने के बाद इस कार्य के लिए भी प्रस्ताव अनुमोदन के लिए प्रस्तुत कर दिया जाएगा।

स्वास्थ्य सुविधाओं को और बेहतर बनाने के लिए भी राजस्व मंत्री ने बैठक में उपस्थित सदस्यों को मुख्य मंत्री की मंशा से अवगत कराते हुए कहा कि जिला अस्पताल में आवश्यक सभी सुविधाएं उपलब्ध होनी चाहिए ताकि किसी भी जरूरतमंद को आवश्यकता पड़ने पर निजी अस्पताओं के चक्कर न लगाने पड़ें। इस अवसर पर कोरबा जिला अस्पताल के सिविल सर्जन सह मुख्य अस्पताल अधीक्षक डाॅ. अरूण कुमार तिवारी ने अस्पताल में सर्जरी विभाग, नवजात शिशु गहन चिकित्सा, ब्लड बैंक, जनरल पैथोलाॅजी लैब, रेडियोलाॅजी, निश्चेतना, नेत्ररोग, लेबर रूम एवं मेटरनिटी विंग, वाह् उवं अंतरंग रोगी विभागों के उन्नयन सहित फायर फाइटिंग सिस्टम एवं अलार्म सिस्टम, माॅरच्यूरी में बाॅडी के लिए केबिनेट आदि की आवश्यकताओं की जानकारी दी। मंत्री महोदय ने निरीक्षण दल के प्रतिवेदन के आधार पर जिन सुविधाओं के उन्नयन अथवा विस्तार की आवश्यकता होगी उन्हें अवश्य पूरा करवाया जाएगा।

बैठक में महापौर नगर पालिक निगम कोरबा राजकिशोर प्रसाद, सभापति नगर पालिक निगम कोरबा श्याम सुन्दर सोनी, मुख्य कार्यपालन अधिकारी कुंदन कुमार, अपर कलेक्टर प्रियंका ऋषि महोबिया, संयुक्त कलेक्टर सह जिला परिवहन अधिकारी विजेन्द्र सिंह पाटले, सिविल सर्जन सह मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ. अरूण कुमार तिवारी, जिला शिक्षा अधिकारी सतीश पाण्डेय, मुख्य नगर पालिका अधिकारी कटघोरा जे.बी. सिंह, मुख्य नगर पालिका अधिकारी दीपका भोला सिंह, मुख्य नगर पालिका अधिकारी छूरी मनीष वार्ले, मुख्य नगर पालिका अधिकारी पाली पूर्णेंदु तिवारी,  प्रधान मंत्री ग्रामीण सड़क योजना के कार्यपालन अधियंता कमल साहू, ग्रामीण यांत्रिकी विभाग के कार्यपालन अभियंता अशोक देवांगन, स्वास्थ्य विभाग के मुख्य परियोजना अधिकारी अशोक सिंह, एनपीपी कटघोरा की सब इंजीनियर रंजना कौशिक, नगर पालिका दीपका के सब इंजीनियर विद्यानंद एम यादव, नगर पंचायत पाली के सब इंजीनियर प्रदीप पटेल,  सब अंजीनियर शालिनी कश्यप कांग्रेस के वरिष्ठ नेता महेश भावनानी उपस्थित थे।

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!