ChhattisgarhKORBA LATEST NEWSKORBA LOCAL NEWS

कोरबा : चैत्र नवरात्रि के पहले चैतुरगढ़ संवारने की कवायद शुरू.. प्राथमिकता के कामों के प्रस्ताव दो दिन में जमा करने कलेक्टर ने दिए निर्देश.

कोरबा : आने वाली चैत्र नवरात्रि के पहले माँ महिषासुर मर्दनी के ऐतिहासिक एवं पुराताविक स्थान चैतुरगढ़ को संवारने की कलेक्टर किरण कौशल ने कवायद शुरू कर दी है। एक हफ्ते में ही आज दूसरी बार श्रीमती कौशल ने अधिकारियों की बैठक लेकर अब तक तैयार की गई कार्ययोजना पर हुए कामों की समीक्षा की और प्राथमिकता के विकास कार्यों के प्रस्ताव अगले दो दिनों में जमा करने के निर्देश दिए। पाली विकासखण्ड के चैतुरगढ़ को पर्यटन की दृष्टि से विकसित करने के लिए सबसे पहले बिजली-पानी और पार्किंग स्थल को व्यवस्थित करने के काम आगामी एक सप्ताह में शुरू हो जाएंगे। इसके साथ ही चैतुरगढ़ में पहाड़ी के नीचे से माँ महिषासुर मर्दनी मंदिर तक पहुंचने के लिए सड़क जीर्णोद्धार की कार्ययोजना भी तैयार की जा रही है। चैत्र नवरात्रि पर यहां श्रद्धालुओं को मंदिर तक पहुंचने के लिए ई-रिक्शा या खुली जीप की सुविधा के लिए भी प्रशासन की तैयारी शुरू हो गई है। सतरेंगा की तर्ज पर पाली के इस ऐतिहासिक और धार्मिक महत्व के स्थान को पर्यटन की दृष्टि से विकसित करने के लिए कलेक्टर श्रीमती कौशल ने आज फिर बैठक में चैतुरगढ़ में अभी मौजूद आधारभूत संरचनाओं तथा सुविधाओं की जानकारी अधिकारियों से ली और इनमें व्यापक सुधार तथा जीर्णोद्धार के प्रस्ताव तैयार कर प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। बैठक में अपर कलेक्टर प्रियंका महोबिया, खनिज न्यास संस्थान की परियोजना समन्वयक श्रीमती सूर्यकिरण तिवारी, डिप्टी कलेक्टर आशीष देवांगन सहित विभागीय अधिकारी भी मौजूद रहे। वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से पाली अनुभाग और विकासखण्ड के मैदानी अधिकारी-कर्मचारी भी बैठक में शामिल हुए।

श्रीमती कौशल ने चैतुरगढ़ में तात्कालिक तौर पर उपलब्ध कराई जा सकने वाली सुविधाओं को विकसित करने पर जोर दिया। यहां विकसित होने वाली सुविधाओं से सतरेंगा की तरह ही स्थानीय लोगों को जोड़ा जाए ताकि उन्हें अपने ही क्षेत्र में स्थानीय स्तर पर आय का साधन मिल सके। श्रीमती कौशल ने पहाड़ के ऊपर पर्यटकों के रूकने के लिए काॅटेज एवं कमरा निर्माण पर भी विचार करने की बात कही। उन्होंने कहा कि बिजली व पानी का प्रबंध होने के बाद पर्यटकों को रूकने के लिए स्थान मिलने से क्षेत्र का धार्मिक महत्व भी बढ़ेगा। बैठक में श्रीमती कौशल ने मड हाउस और पार्किंग स्थल के पास एक-एक सार्वजनिक शौचालय लगाने, दो बड़े डस्टबिन स्थापित करने के निर्देश भी जनपद पंचायत पाली के सीईओ को दिए। कलेक्टर ने पहाड़ के ऊपर तक पहुंचने के लिए संकरी सड़क के चैड़ीकरण की संभावनाओं पर भी बात की और चैड़ीकरण के लिए प्रस्ताव तथा प्राक्कलन प्रस्तुत करने के निर्देश लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को दिए।

कलेक्टर श्रीमती कौशल ने बैठक में मंदिर परिसर में स्थित तालाब के पानी को साफ कर पीने लायक बनाने के लिए आरओ वाॅटर प्लांट स्थापित करने के निर्देश दिए। उन्होंने पहाड़ के नीचे से पानी को ऊपर पहुंचाने के लिए हाई प्रेशर पंप की व्यवस्था करने को भी कहा। कलेक्टर ने पार्किंग स्थल के समतलीकरण, तालाबों की सफाई और मंदिर परिसर के आसपास भूमि समतलीकरण के काम प्राथमिकता से कराने के निर्देश दिए। उन्होंने मंदिर परिसर में सुसज्जित उद्यान विकसित करने के लिए भी उद्यानिकी विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया। इसके साथ ही कलेक्टर ने पहाड़ी के नीचे सुसज्जित उद्यान विकसित करने के लिए भी मनोरम स्थल का चयन करने और प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश अधिकारियों को दिए।

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!