National

ज्यादा नहीं खिसकेंगी सीबीएसई बोर्ड सहित जेईई-नीट की परीक्षाएं, 10 दिसंबर के बाद जारी होगा कार्यक्रम

सीबीएसई के दसवीं और बारहवीं बोर्ड सहित जेईई और नीट की परीक्षाओं का कार्यक्रम इस बार भी पिछले साल की तारीखों के आसपास ही रहेगा। फिलहाल बोर्ड की परीक्षाएं अप्रैल-मई में कराई जा सकती है। इसकी घोषणा दस दिसंबर के बाद कभी भी हो सकती है। कोरोना संक्रमण को देखते हुए शिक्षा मंत्रालय इस बीच इन परीक्षाओं को लेकर छात्रों, अभिभावकों और शिक्षकों के साथ अलग-अलग स्तरों पर रायशुमारी भी शुरु कर दी है। खुद केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक तीन दिसंबर को फेसबुक और ट्वीटर के जरिए छात्रों और अभिभावकों से चर्चा करेंगे और उनकी राय भी जानेंगे।

परीक्षाओं को लेकर मंत्रालय इसलिए भी सतर्क है, क्योंकि कोरोना के चलते इस साल परीक्षाओं में देरी होने से पूरा शैक्षणिक सत्र गड़बड़ा गया है। जिसे अब वह समय या उसके आसपास कराकर उसकी भरपाई करना चाहता है, ताकि आने वाले सालों में छात्रों को इसकी परेशानी न उठानी पड़े। बावजूद इसके मंत्रालय कोई भी फैसला छात्रों, अभिभावकों और शिक्षकों की राय के बाद ही लेना चाहता है।

यही वजह है कि मंत्रालय ने परीक्षाओं को लेकर एक व्यापक रायशुमारी शुरू की है। जिसमें सभी पक्षों से परीक्षाओं को लेकर खुली राय रखने को कहा है। फिलहाल अब तक जो राय मिल रही है, उनमें सभी परीक्षाएं कराने के पक्ष में है। समय को लेकर सभी के अलग-अलग मत जरूर है।

इस तरह जेईई मेंस की जनवरी में होने वाली परीक्षा को थोड़ा खिसकाया जा सकता है। जबकि इसकी अप्रैल में होने वाली परीक्षा को यथावत ही रखा जाएगा। वहीं नीट की परीक्षा को भी समय पर ही कराने की योजना है। जो हर साल मई के पहले हफ्ते में होती है। मंत्रालय का मानना है कि वैसे भी इसके लिए छात्रों के पास पर्याप्त समय है।

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!