National

शिवसेना का 8 सूत्रीय मांगों को लेकर ईको गार्डेन पर धरना..

लखनऊ में बढ़ते अपराध और बिगड़ती कानून व्यवस्था को लेकर शिवसेना 30 नवंबर को ईको गार्डेन, आलमबाग, लखनऊ पर उ0प्र0 शिवसैनिकों का धरना-प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शन मे आये हुए शिवसैनिकों ने अराजकता के खिलाफ हुंकार भरी। आज अपनी 8 सूत्रीय मांगों के संदर्भ में शिवसैनिकों को सम्बोधित करते हुए प्रदेश प्रमुख ठा0 अनिल सिंह ने कहा कि आज पूरे प्रदेश में प्रायः बहन बेटियों की अस्मत लूटी जा रही है। राजधानी को अपराधियों ने गुनाह की प्रयोगशाला बना दिया है। योगी आदित्यनाथ की सरकार कानून व्यवस्था पर पूरी तरह से फेल हो चुकी है। सरकार किसानों और नौजवानों का शोषण कर ही रही है।

हाथरस, बलरामपुर, लखीमपुर व राजधानी लखनऊ की घिनौनी घटनाऐं आम हो गयी है। छेड़खानी से तंग बच्चियां आत्म हत्या कर रही हैं। सरकारी ठेके पर जहरीली शराब बिक रही है। लखनऊ में छह लोग सरकारी ठेके की शराब पीकर मर गये। प्रदेश के हापुड़, मथुरा, फिरोजाबाद, लखनऊ और प्रयागराज में नवम्बर महीने में दो दर्जन लोग मौत केे घाट उतार दिये गये। सबसे आश्चर्य की बात तो यह है कि जब प्रयागराज में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत प्रवास पर थे उस समय वहां 6 लोग जहरीली शराब से जान गंवा चुके थे। शिवसेना की मांग है कि जहरीले शराब से मारे गये लोगों के परिजनों दस-दस लाख की सहायता दे तथा इस घटना के जिम्मेदार अधिकारियों पर हत्या का अभियोग दर्ज किया जाय।

सरकार किसानों का समर्थन मूल्य देना तो दूर, किसानों के धान की तौल तक नहीं करा पा रही है। कथित तौल सेंटरों पर किसानों के धान खरीद में घटतौली की जा रही है। इन घटनाओं पर मुख्यमंत्री को प्रेस कान्फ्रेंस तक करना पड़ रहा है। इन्ही मुद्दों को लेकर शिवसेना ने आज ईको गार्डेन पर 8 सूत्रीय मांगों को लेकर धरना दिया है। इस अवसर पर प्रदेश उप प्रमुख संजय द्विवेदी, प्रदेश महासचिव धर्मेन्द्र तोमर, प्रदेश सचिव एवं प्रदेश कार्यालय प्रभारी विश्वजीत सिंह, अल्पसंख्यक अध्यक्ष फुरकान खान, जिला प्रमुख बाराबंकी, बहराइच, श्रावस्ती, अम्बेडकरनगर, मुरादाबाद, अयोध्या, मेरठ, रायबरेली, कानपुर, उन्नाव, सीतापुर, हरदोई सहित अनेकों जनपदों के पदाधिकारीगण मौजूद रहें।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!