Chhattisgarh

कुसमुण्डा : SECL के आवासों में अवैध कब्जा कर डेरा जमाये बैठे लोगो पर प्रबन्धन हुआ सख्त.. काटे जा रहे हैं बिजली कनेक्शन.

रिपोर्ट : ओम गभेल

छत्तीसगढ़/कोरबा : पूर्व में SECL कुसमुण्डा परियोजना के अधिकारियों की उदासीनता, अनदेखी व सांठगांठ की वजह से SECL के सैकड़ों की संख्या में आवासों पर अवैध कब्जा किया गया, जिसका परिणाम आज यह है कि SECL को अपने कर्मचारियों के रहने के लिए आवास उपलब्ध नही हो पा रहे।

हालांकि वर्तमान मुख्यमहाप्रबन्धक आर पी सिंह ने इस समस्या को बहुत ही गम्भीरता से लिया है। सबसे पहले अवैध कब्जा कर रह रहे लोगो की सूची तैयार कराई गई, उसके बाद उन्हें आवास खाली करने नोटिस भेजा गया। कई लोगो ने आवास खाली किया और अब तक जिन्होंने खाली नहीं किया उनकी बिजली काटी जा रही है। बताया जा रहा है कि आने वाले समय में आवास खाली नहीं करने पर पुलिस प्रशासन की मदद से कानूनी कार्यवाही भी की जावेगी।

प्रबन्धन के अधिकारी बताते है कि अभी सबसे पहले बाहरी लोगों पर कार्यवाही की जा रही है, उसके बाद कुसमुण्डा परियोजना से रिटायर्ड कर्मी जो काफी अरसे से इन आवासों में जमे हुए है उन पर भी कार्यवाही की जावेगी। बीते एक सप्ताह से चल रहे इस कार्यवाही में विकास नगर, आदर्श नगर सहित पूरे कुसमुण्डा क्षेत्र के लगभग 50 से अधिक लोगों के अवैध कब्जे वाले आवासों से बिजली कनेक्शन को काटा जा चुका है।

आपको बता दें SECL कुसमुण्डा में बीते कई माह में सेकड़ो कर्मचारी रिटायर्ड हुए है उनके स्थान पर नए कर्मचारी आसपास के खदानो व नई भर्ती से आ रहे हैं, जिनकी जावइनिंग के पश्चात रहने के लिए आवास मिलने में काफी दिक्कत सामने आ रही है। लोगो को समझना होगा कि मुफ्त का घर, बिजली, पानी अत्यधिक दिन नही चलेगा, उन्हें स्वयं और स्वयं के परिवार के लिए कोई अन्य ठिकाना तलाशना ही होगा।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!