CG NEWSChhattisgarh

“बस्तर ता माटा’’ कार्यक्रम के तहत बस्तर संभाग के मांझी और चालकियों से बस्तर पुलिस द्वारा क्षेत्र की सुरक्षा एवं विकास कार्य के संबंध में भी की गई विचार विमर्श

बस्तर के परंपरागत नेतृत्व एवं प्रतिनिधित्व करने वाले मांझी और चालकियों का बस्तर पुलिस द्वारा की गई सम्मान क्षेत्र की सुरक्षा एवं विकास कार्यो के प्रति मांझी एवं चालकियों ने अपना-अपना विचार एवं सुझाव प्रकट किया गया
छत्तीसगढ़ जगदलपुर बस्तर दशहरा के अवसर पर संभाग मुख्यालय के जगदलपुर में बस्तर पुलिस द्वारा पुलिस को-ऑर्डिनेशन परिसर के शौर्य भवन में बस्तर क्षेत्र के समस्त मांझी एवं चालकियों का सम्मान कार्यक्रम आयोजित की गई।
इस अवसर पर बस्तर ता माटा  कार्यक्रम के तहत बस्तर संभाग के मांझी और चालकियों से बस्तर पुलिस द्वारा क्षेत्र की सुरक्षा एवं विकास कार्याें के संबंध में विचार विमर्श कर बस्तर के परंपरागत नेतृत्व एवं प्रतिनिधित्व करने वाले मांझी और चालकियों का सम्मान किया गया।
पुलिस महानिरीक्षक  सुंदरराज पी. द्वारा बताया गया कि बस्तर क्षेत्र की परंपरागत नेतृत्व एवं प्रतिनिधित्व करने वाले मांझी एवं चालकियों जैसी संस्था को मजबूत किया जाना अतिआवश्यक है। विचार विमर्श कार्यक्रम के दौरान बस्तर संभाग के मांझी एवं चालकियों द्वारा अपने-अपने परगना से संबंधित परिस्थिति को अवगत कराते हुये बस्तर संभाग के सातो जिलों में पुलिस एवं सुरक्षाबल द्वारा जनता के विश्वास अर्जित करने हेतु की जा रही सकारात्मक पहलुओं की सराहना की गई। पुलिस अधीक्षक, बस्तर दीपक झा द्वारा समस्त मांझी एवं चालकियों उपहार भेंटकर सम्मानित करते हुये सभी का क्षेत्र की सुरक्षा एवं विकास कार्यों के प्रति सकारात्मक विचार एवं सुझाव देने हेतु आभार प्रकट किया गया। उल्लेखनीय है कि विगत महीनों में “बस्तर ता माटा” कार्यक्रम के तहत बस्तर पुलिस द्वारा बस्तर की जनता का आवाज को मजबूत करने की दिशा में किये जा रहे कार्यों से सकारात्मक परिणाम प्राप्त हो रही है।
संवाददाता विजय पचौरी छत्तीसगढ़ जगदलपुर बस्तर
Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!