Chhattisgarh

छत्तीसगढ़ स्थापना दिवस के अवसर पर राज्य स्तरीय किकबाक्सिंग ई टूर्नामेंट का होगा आयोजन.. वर्चुअली भाग लेंगे राज्य के लगभग 350 किक बाक्सर्स.

कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव हेतु छत्तीसगढ़ किकबाक्सिंग एसोसिएशन के विभिन्न सम्बंधित जिलों के ऑफिशियल्स, प्रशिक्षकों एवं खिलाड़ियों को शासन प्रशासन द्वारा जारी गाइडलाइंस का पालन करने हेतु मार्गदर्शित किया गया है। जिसके अनुसार वे घर में रहकर या सोशल डिस्टेंसिंग के साथ कोविड 19 प्रोटोकाल को मानते हुए अपने खेल का अभ्यास कर रहे।

वाको इंडिया किकबाक्सिंग फेडरेशन एवं छग किकबाक्सिंग एसोसिएशन के महासचिव तारकेश मिश्रा ने बताया एसोसिएशन द्वारा लगातार कोविड-19 संक्रमण से बचाव हेतु सोशल मीडिया के विभिन्न प्लेटफॉर्म पर हैश टेग किक टू कोरोना चलाया ज रहा, जिसमे खिलाड़ी घर पर किये जा रहे वर्क आउट्स की फ़ोटो या वीडियो शेयर कर रहे हैं।

इन्होंने बताया कि स्टे होम स्टे सेफ की अवधारणा को सफल करने तथा इस महामारी के दौरान खिलाड़ियों को खेल से जोड़े रखने एवं उनकी इम्यूनिटी को बढ़ाने के लिए छग किकबाक्सिंग एसोसिएशन के द्वारा *7वी राज्य स्तरीय किकबाक्सिंग प्रतियोगिता का आयोजन ई-टूर्नामेंट के रूप में* किया जा रहा है। जिसमें विभिन्न जिलों के लगभग 350 खिलाडिय़ों द्वारा किकबाक्सिंग खेल के विभिन्न विधाओं के शेडो प्रेक्टिस का वीडियो भेजा जायगा। प्रतियोगिता में भाग लेने हेतु 25 अप्रैल को विभिन्न जिलों में आयोजित जिला स्तरीय ई टूर्नामेंट में शामिल किकबाक्सर्स के वीडियो को सम्मिलित किया जायेगा। यह प्रतियोगिता महिला- पुरुष/ बालक बालिका के कैडेट, जूनियर एवं सीनियर कैटेगरी में विभिन्न वजन वर्गो के अनुसार पाइंट फाइटिंग, लाइट कांटेक्ट, किक लाइट, फूल कांटेक्ट, लोकिक, केवन एवं म्यूजिकल फार्म्स के शेडो वीडियो के आधार पर होगी।

खिलाड़ियों द्वारा अधिकृत मोबाइल नम्बर, ईमेल अथवा गूगल फार्म पर अपने आयु, वजन वर्ग एवं इवेंट के अनुसार अपना पंजीयन कर सम्बंधित इवेंट के शैडो प्रेक्टिस का वीडियो भेजना होगा। पपूर्व में जिला स्तरीय ई किकबाक्सिंग प्रतियोगिता के खिलाडिय़ों को पुनः पंजीयन की आवश्यकता नही होगी। विजेताओ को एक्सपर्ट राज्य, राष्ट्रीय एवं अंतराष्ट्रीय स्तर के रेफरी जज द्वारा निर्णयन पश्चात गोल्ड, सिल्वर एवं ब्रांज रेंक से ई सर्टिफिकेट ऑनलाइन भेजकर सर्टिफाइड किया जायेगा। भविष्य में होने वाले राष्ट्रीय किकबाक्सिंग प्रतियोगिता में भाग लेने हेतु इन खिलाड़ियों को प्राथमिकता दी जाएगी।

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!