CHHATTISGARH

‘होम आईसोलेशन की अनुमति असानी से मिले’ – कलेक्टर.. शिकायत की जांच के लिए टीम गठित करने के निर्देश.

जिला प्रभारी : आशीष अग्रवाल

छत्तीसगढ़/जांजगीर-चांपा : कलेक्टर यशवंत कुमार ने आज जिला कार्यालय मे कोविड -19 की रोकथाम एवं प्रबंधन से संबंधित जिला स्तरीय आधिकारियों की बैठक मे कहा कि लक्षण रहित कोरोना संक्रमित मरीजो को मेडिसिन किट के साथ ही होम आईसोलेशन के लिए प्रोत्साहित किया जाए। होम आसोलेशन की अनुमति सरलता से और असानी से मिलनी चाहिए। किसी भी मरीज को अनुमति के लिए दिक्कत ना हो, इसका ध्यान रखें।

कलेक्टर ने होम आईसोलेशन के लिए पैसे मांगने की एक शिकायत को गंभीरता से लेते हुए कहा कि ऐसी शिकायत की कड़ाई से जांच होगी। सही पाये जाने पर जिम्मेदार के खिलाफ बर्खास्तगी जैसी कड़ी कार्यवाही की जाएगी। साथ ही थाने में एफआईआर भी दर्ज कराया जाएगा। शिकायत की जांच के लिए टीम गठित कर मरीजो से टेलीफोन से जानकारी लेने के लिए जिला पंचायत सीईओ श्री तीर्थराज अग्रवाल को निर्देशित किया। साथ ही काॅल रिकार्ड सुलभ सदर्भ के लिए रखने के निर्देश दिए।

कलेक्टर ने सीएमएचओ से कहा कि सभी आवश्यक दवाईयो का स्टाक पर्याप्त मात्रा मे उपलब्ध रहे, यह सुनिश्चित करें। किसी भी स्वास्थ्य केन्द्र में दवाईयों की कमी नहीं होनी चाहिए। आवश्यकता अनुसार लोकल खरीदी की अनुमति दी जाएगी।

कलेक्टर ने एसडीओपी  पद्मश्री तंवर से कहा कि पुलिस विभाग द्वारा तैयार की गई रक्षा एप शतप्रतिशत मरीजो के मोबाईल फोन पर डाउनलोड कराने का प्रयास किया जाएगा। इसके लिए टेस्टिंग संेटर में ही पोस्टर के माध्यम से एप का प्रचार-प्रसार किया जाएगा। साथ ही दिनभर कोरोना पाजीटिव मरीजो की सूची सीएमएचओ के माध्यम से प्रतिदिन पुलिस विभाग को उपलब्ध कराई जाएगी। उन्होने कहा कि सभी कोविड केयर सेन्टर मे सुरक्षा के लिए गार्ड तैनात करें ताकि कोई भी मरीज अनाधिकृत रूप से बाहर ना जा सके। आवश्यकता आनुसार बेरिकेटिंग भी लोक निमार्ण विभाग से करवाया जाएगा।

कलेक्टर ने कहा कि मानसिक रूप से अस्वस्थ मरीजो के परामर्श के लिए मनोचिकित्सक की ड्यूटी लगाने के लिए सीएमएचओ को निर्देशित किया। ताकि मानसिक रूप से अस्वस्थ मरीज को विडियों काॅल या वाईस काॅल के माध्यम से तनाव मुक्त करने के लिए परामर्श किया जा सके। परामर्श का रिकार्ड संधारित करने के निर्देश भी दिए गए।

कलेक्टर ने कहा कि आयुर्वेद डाॅक्टरो एवं आयुष स्वास्थकर्मियों की डयूटी कोविड केयर सेन्टर मे लगाई जाए, जिससे लगातार ड्यूटी कर रहे चिकित्सा अधिकारियों को आराम मिल जाए। नर्स एवं अन्य स्वास्थ कर्मचारियों की भी ड्यूटी रोटेशन मे लगाई जाए।

बैठक मे अपर कलेक्टर  लीना कोसम, जिला पंचायत सीईओ  तीर्थराज अग्रवाल, सीएमएचओ डाॅक्टर एस आर बंजारे, डिप्टी कलेक्टर करूण डहरिया सहित संबंधि अधिकारी उपस्थिित थे।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!