Chhattisgarh

कोरबा : उद्योग और मजदूर को बचाने कल होगा आंदोलन.. पढ़े पूरी खबर.

छत्तीसगढ़/कोरबा : 9 अगस्त 1942 भारत छोड़ो दिवस के दिन रविवार को श्रमिक संगठनों ने केंद्र सरकार की उद्योग और मजदूर विरोधी नीतियों के खिलाफ आंदोलन करने का ऐलान किया है। इस आंदोलन में भारतीय मजदूर संघ को छोड़कर सभी ट्रेड यूनियन शामिल है। केंद्र सरकार की निजीकरण विनिवेश राष्ट्रीय संपत्ति बेचना सहित अन्य नीतियों के खिलाफ 10 श्रमिक संगठनों ने 9 अगस्त को देशव्यापी आंदोलन करने का निर्णय लिया है। इस बात की जानकारी ट्रेड यूनियन एटक के प्रांतीय महासचिव हरिनाथ सिंह ने दिया है। उन्होंने बताया कि 9 अगस्त 1942 को गुलामी की जंजीरों को तोड़ने के लिए महात्मा गांधी ने मुंबई में राष्ट्रीय अधिवेशन में अंग्रेज भारत छोड़ो करने का घोषणा किया था। वर्तमान में केंद्र सरकार की गलत नीतियों की वजह से उद्योग और मजदूर संकट में है जिसे देखते हुए भारत छोड़ो दिवस के अवसर पर 9 अगस्त को देशव्यापी आंदोलन किया जा रहा है।

इस आंदोलन का व्यापक असर पड़ेगा हालांकि आंदोलन रविवार को आयोजित किया गया है। इस दिन बैंक बीमा सहित अन्य शासकीय दफ्तर बंद रहेंगे वहीं दूसरी ओर वामपंथी श्रमिक संगठनों ने प्रदर्शन व जेल भरो आंदोलन करने का ऐलान किया है जिसे देखते हुए पुलिस प्रशासन ने भी कड़ी करवा दी की चेतावनी दिया है। हालांकि इस आंदोलन में श्रमिक संगठन इंटक भी शामिल है। इसलिए राज्य सरकार की रुक आंदोलनकारियों के विरुद्ध नरम होने की संभावना जताई जा रही है।

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
Close