ChhattisgarhNational

सरकार ने दो पहिया वाहन सवारों के लिए हेलमेट संबंधी नए नियम बनाने की तैयारी में जारी की अधिसूचना.. खराब गुणवत्ता या लोकल हेलमेट होने पर…

देश के सड़को पर अमानक हेलमेट पहनकर दो पहिया वाहन चलाने वाले 28 व्यक्तियों की प्रतिदिन मौत हो जाती है सरकार ने अब मानक हेलमेट संबंधी नए नियम बनाने की तैयारी में है इस नियम को लागु करने के पूर्व तीस जुलाई को अधिसूचना जारी किया है । अमानक हेलमेट पहनने वालो के विरुद्ध एक हजार रूपए का जुरमाना वसूल किया जायेगा इसी तरह मानक हेलमेट के निर्माण को बढ़ाने के लिए भारतीय मानक ब्यूरो से प्रमाण पत्र लेना अनिवार्य कर दिया गया है । अमानक हेलमेट निर्माण करने वाले कंपनी के विरुद्ध कार्यवाही की जाएगी उनसे दो लाख रुपये जुर्माना और जेल का प्रवधान रखा जा रहा है इस संबंध में लोगो के विचार और आपत्ति सरकार ने मांगी है ।

नए मानक में हेलमेट का वजन घटाया

विशेषज्ञों का कहना है कि बगैर हेलमेट अथवा हेलमेट की खराब गुणवत्ता (लोकल हेलमेट) होने पर 1,000 रुपये का चालान होगा। नए मानक में हेलमेट का वजन डेढ़ किलो से घटाकर एक किलो 200 ग्राम कर दिया गया है। टू व्हीलर हेलमेट मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष राजीव कपूर ने ‘हिन्दुस्तान’ को बताया कि हेलमेट को बीआईएस सूची में शामिल होने से दो पहिया वाहन चालकों की सड़क दुर्घटना में जान बच सकेगी। 2016 के अध्ययन के मुताबिक देश में प्रतिदिन लोकल हेलमेट अथवा बिना हेलमेट के चलते 28 बाइक सवार सड़क हादसे में मारे जाते हैं।

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
Close