CHHATTISGARH

जुगाड़ के आगे नियम-कायदे फेल.. 15-20 वर्षों से बम्हनीडीह जनपद में अंगद की तरह पैर जमाये अधिकारी व कर्मचारी.

रिपोर्ट : रौनक सराफ

छत्तीसगढ़/जांजगीर-चाम्पा : शासकीय विभागों में पदस्थ रहने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों को एक जगह से दूसरे जगह स्थानांरित इसलिए किया जाता है कि जब उनको एक ही जगह पर अधिक समय हो जाता है तो लोगों से बने संबंधों को लेकर वह शासन की योजनाओं का आमजन को लाभ देने में भेद भाव पूर्ण रवैया ना अपना सकें। लेकिन बम्हनीडीह जनपद कार्यालय में कई अधिकारी कर्मचारी ऐसे हैं जिनका 15-20 वर्षों से तबादला नहीं हुआ है, और वे प्रभारवाद के चक्कर में एक ही जगह पर जमे हुए हैं।

वर्षो से अंगद के पैर के समान जमे हुए अधिकारी और कर्मचारी

बम्हनीडीह ब्लॉक के जनपद पंचायत जैसे महत्वपूर्ण विभाग में कुछ अधिकारी और कर्मचारी वर्षो से जमे हुए हैं। वर्षो से एक ही स्थान पर जमे इन अफसर, कर्मचारियों की पहुंच के आगे नियम कानून ढीले पड़ते नजर आ रहे हैं. स्थानांतरण नीति तो हर साल जारी होती है,लेकिन जुगाडू कर्मचारियों पर इसका कोई असर नही पड़ता।मर्जी से इन जुगाडू कर्मचारियों का तबादला नही किया जा सकता।वर्षों से एक ही जगह जमे रहने के कारण क्षेत्र में उनकी अच्छी खासी पहचान हो गई है इसी कारण वे अपना काम ठीक से नहीं करते किसी भी शासकीय योजना अन्तर्गत कार्य के निष्पादन हेतु अवैध रूप से राशि की मांग करते है इनके हौसले इतने बुलंद हो गए है कि अपने उच्चाधिकारियों के आदेश की अवहेलना करते हुए कार्य से संबंधित फाइल को अपने पास रोक कर जनहित की शासकीय योजनाओं को भी रोक कर कार्य में बाधा उत्पन्न कर रहे है।अंगद की तरह वर्षों से जमे कर्मचारियों के रवैए से जनप्रतिनिधि परेशान है उनके स्थानांतरण की मांग कर रहे है।

जनपद पंचायत बम्हनीडीह के विकास विस्तार अधिकारी एफ आर साहू पिछले 10 वर्षों से जनपद में पैठ बना जमे हुए है तो साथ ही विकास विस्तार अधिकारी डी पी कश्यप एवं सहायक विकास विस्तार अधिकारी बी आर ध्रुव रिकार्ड तोड 24 – 25 सालो से जनपद कार्यालय में जुगाड जमा कर बने हुए है।तो वहीं करारोपण अधिकारी हुलास पटेल,श्याम कुमार सिदार व चैन सिंह कंवर भी 8 – 10 वर्षों से अंगद की तरह जनपद कार्यालय में जमे हुए है।इनके साथ ही साथ ब्लाक मुख्यालय में दर्जन भर से भी ज्यादा अधिकारी कर्मचारी ऐसे है जो पिछले 10 वर्षों से भी अधिक समय से एक ही जगह जुगाड लगा – लगा कर जमे हुए है जिस पर किसी बड़े अधिकारी की नजर नहीं जा रही है।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!