Chhattisgarh

कुसमुंडा : मृतक के परिजन और सहकर्मियों ने मुआवजा की मांग को लेकर किया हंगामा.. कोल स्टॉक में आग बुझाने वाले ठेका कर्मी की संदिग्ध आवस्था में मिली थी लाश.

छत्तीसगढ़/कोरबा : SECL कुसमुंडा के कोल स्टॉक में आग बुझाने कार्य करने वाले ठेका श्रमिक श्यामल पिता उचित राम उम्र 44 वर्ष की संदिग्ध मौत हो गयी थी मृतक के सहकर्मियों ने मुआवजा और नौकरी मांग को लेकर हंगामा किया है इस मांग पर SECL प्रबंधन ने कोई लिखित अश्वासन देने को तैयार नहीं था इससे विवाद की स्थिति बनी रही और 20 घंटे तक पोस्टमार्टम नहीं हो पायी थी लेकिन SECL ने लिखित में मुआवजा और रोजगार संबंधी लिखित में पत्र दिया है इससे गतिरोध समाप्त हो गया है.

 

SECL कुसमुंडा खदान में कोल स्टॉक लगी आग बुझाने का कार्य ठेका कंपनी को दिया है इस कंपनी में कार्यरत श्यामल पिता उचित राम कि संदिग्ध अवस्था में लाश मिली है घटना के बारे में बताया जाता है कि कल शाम 4:30 बजे कुसमुंडा एरिया में भारी बारिश हुई. बारिश से बचने के लिए आग बुझाने वाले ज्यादातर ठेका कर्मी कोल स्टॉक से निचे उतर गए जबकि श्यामल अकेले ही कोल स्टॉक में मौजूद थे इसी दरमियान आकाशीय बिजली लगतार गिरी थी उनके सहकर्मी बारिश थमने के बाद पुनः कॉल स्टॉक पर पहुंचे तो श्यामल की शव पड़ा मिला इस घटना की सुचना पुलिस को दी गयी इसके आधार पर पुलिस ने मर्ग कायम कर लिया है वही दूसरी और मृतक के सहकर्मियों व परिजनों ने मुआवजा और रोजगार की मांग को लेकर काफी हंगामा मचाई साथ ही शव का पोस्ट मार्टम रोक दिया था.

इस विवाद के कारण गतिरोध बना रहा. सहकर्मियों और परिजनों ने SECL से रोजगार और मुआवजा देने संबंधी के लिखित में अश्वासन माँगा था SECL ने लिखित में पत्र दिया इसके बड़े विवाद का निराकरण किया जा चुका परिजनों ने पीएम करने की सहमति दी है.

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
Close