Chhattisgarh

कोरबा : वेदांता ने कोल इंडिया से कोयला खरीदने करार को किया रद्द.. दूसरी ओर दो अन्य कंपनियों ने भी तोड़ा समझौता.. जाने क्यों.

छत्तीसगढ़/कोरबा : वेदांता समूह ने कोल इंडिया के साथ कोयला खरीदने का करार तोड़ दिया है इससे कोल इंडिया को झटका लगा है. कोरोना वायरस संक्रमण के कारण छत्तीसगढ़ प्रदेश की कई उद्योग बंद है इस वजह से SECL से कोयला खरीदने वाले उद्योग सीमित हो गयी है इससे कोयले के बिक्री नहीं हो पा रही है. कोल इंडिया के तीन प्रमुख कोयला खरीदार वेदांता समूह जिंदल इंडस्ट्रीज हिंडाल्को ने कोयले की घटिया क्वालिटी को देखते हुए कोल इंडिया से अपना करार रद्द कर दिया है. वेदांता समूह अपनी कोयला आवश्यकता निजी चोटिया खदान और इ-नीलामी के माध्यम से पूर्ति करेगी. कोल इंडिया की सबसे अधिक कोयला उत्पादन SECL करती है. SECL से ही वेदांता समूह की सहायक कंपनी भारत एल्यूमिनियम कंपनी लिमिटेड (बालको) कोयला खरीदता है लेकिन कोयले की क्वालिटी घटिया होने से बालको पावर प्लांट को भारी नुकसान हो रही है. निजी कंपनी के अलावा सरकारी कंपनी NTPC और छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत् उत्पादन कंपनी भी कोयला सही नहीं मिलने की शिकायत कर चुके है.

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
Close