Chhattisgarh

के एस के महानदी पावर कम्पनी के मजदूर विरोधी नीति के खिलाफ लामबंद हो रहे है मजदूर

संवाददाता- अविनाश सिंह

छत्तीसगढ़/अकलतरा : छत्तीसगढ़ पावर मजदूर संघ (एच एम एस) श्रमिक संघ के आह्वान पर नरियरा के भगत कुआँ मंदिर परिसर पर दिनाँक 19 जुलाई 2020 दिन रविवार को बैठक आयोजित किया गया जिसमें कारखाना के कार्यरत मजदूर एवं यूनियन के पदाधिकारी शामिल हुए, बैठक का प्रमुख मुद्दा लंबे समय से कंपनी प्रबन्धन के द्वारा मजदूरो को नौकरी से बाहर किये गए 20 भुविस्थापित मजदूरो की बहाली एवं अन्य श्रमिक विरोधी नीतियों के संबंध में चर्चा की गयी। बैठक में प्रमुख रूप से अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य श्रीमती मंजू सिंह, एन एस यू आई के जिलाध्यक्ष अंकित सिंह सिसोदिया एवं अमित यादव शामिल हुए।

श्रमिक संघ के तरफ से महामंत्री शेरसिंह राय ने कहा कि कंपनी प्रबन्धन ने पिछले 10 महीने पहले जब मजदूरो को नौकरी से बाहर निकाला है उसके बाद से कम्पनी प्रबन्धन की मनमानी दिनों दिन बढ़ती जा रही है, मजदूरो के हितों के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है, मजदूरो के बीमा प्रमोशन वेतन वृद्धि जैसे मुद्दों से मुकरने के लिए 20 श्रमिक नेता जो मजदूरो का प्रतिनिधित्व करते है उनको नौकरी से निकाला गया है, संघ के बलराम गोस्वामी ने कहा पूर्व में भी यही कृत्य प्रबन्धन ने लगभग 4-5 वर्ष पहले किया गया था जब 3 मजदूरो को नौकरी से निकाल दिया गया था उस वक्त तत्कालीन जिला कांग्रेस कमेटी जांजगीर चाम्पा के अध्यक्ष श्रीमती मंजू सिंह के कुशल नेतृत्व में लंबे संघर्ष से मजदूरो की बहाली हुई थी, आज फिर से वही स्थिति है इस बार बड़ी संख्या में 20 भूविस्थापितो को नौकरी से निकाला गया है संघ के तरफ से श्रीमती मंजू सिंह को बैठक में शामिल होने के लिए धन्यवाद देते हुए उनसे निवेदन किया गया कि जब जब श्रमिको के साथ अन्याय होता है तो आप हमेशा मजदूरो के साथ होती है इस बार भी मजदूरो के साथ अन्याय हो रहा है, लगभग 10 महीने से मजदूर बहाली के लिए प्रयास कर रहे है पर कम्पनी प्रबन्धन और जिला प्रशासन मजदूरो की बहाली के लिए मूकदर्शक बना हुआ, जिससे मजदूरो में आक्रोश पनप रहा है, समय रहते अब उचित निर्णय नहीं होता है तो मजदूर आंदोलन के बाध्य होंगे यह जानकारी मंजू सिंह जी को दी गयी। जिसके बाद मंजू सिंह ने बैठक में उपस्थित मजदूरो को कहा कि मजदूरो के साथ अन्याय नही होने देंगे वर्तमान समय में कोरोना महामारी को देखते हुए कार्य करना पड़ रहा है शासन प्रशासन से चर्चा कर मजदूरो की जल्द बहाली कराने उचित पहल किया जा रहा है, जल्द ही मजदूरो की बहाली होने की संभावना है, हमारी सरकार मजदूरो के साथ है, एन एस यू आई के जिलाध्यक्ष अंकित सिंह सिसोदिया ने कहा कि मजदूरो के साथ अन्याय नही होने देंगे जिस प्रकार से मजदूरो ने अपनी समस्याओं से अवगत कराया है उसके हिसाब से कारखाना प्रबन्धन के द्वारा मजदूरो का शोषण किया जा रहा है जो किसी भी स्थिति में बर्दाश्त नही किया जायेगा, बैठक में प्रमुख रूप से संघ के अध्यक्ष विश्वनाथ प्रसाद साहू, रवि नोरगे रामकृष्ण धीवर रामलाल केवट, अविनाश महिपाल, सतीश बर्मन, रामकृष्ण साहू, मूलचन्द नोरगे, अशोक राठौर, लक्ष्मीप्रसाद साहू, विजय बरेठ, मिथिलेश दुबे, पूनम दुबे सहित सैंकड़ो मजदूर शामिल हुए।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
Close